Advertisement

Updated April 2nd, 2024 at 13:24 IST

जांच से बचने के लिए चीनी सैन्य कंपनी अमेरिका में इकाई स्थापित करने की कोशिश में: अमेरिकी सांसद

अमेरिका सांसदों ने कहा है कि चीनी सैन्य कंपनी बीजीआई नियामक जांच से बचने के लिए मैसाचुसेट्स और केंटुकी में एक नई कंपनी इनोमिक्स को स्थापित करने की कोशिश में है।

Edited by: Digital Desk
 Raja Krishnamoorthi
भारतवंशी सांसद राजा कृष्णामूर्ति | Image:x/self
Advertisement

अमेरिका के दो प्रभावशाली सांसदों ने कहा है कि चीनी सैन्य कंपनी बीजीआई नियामक जांच से बचने के लिए मैसाचुसेट्स और केंटुकी में एक नई कंपनी इनोमिक्स को स्थापित करने का प्रयास कर रही है।

अमेरिका और चाइनीज कम्युनिस्ट पार्टी के बीच रणनीतिक प्रतिस्पर्धा से जुड़ी प्रतिनिधि सभा की समिति के अध्यक्ष माइक गैलाघेर और इसके रैंकिंग सदस्य राजा कृष्णमूर्ति ने अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन को सोमवार को लिखे पत्र में देश में उन अन्य समस्याग्रस्त चीनी बायोटेक कंपनियों का जिक्र किया जो चीनी सेना और चाइनीज कम्युनिस्ट पार्टी (सीसीपी) के उद्देश्यों और लक्ष्यों को पूरा करने के लिए काम कर रही हैं।

Advertisement

उन्होंने लिखा, हम आपसे वित्त वर्ष 2024 के लिए राष्ट्रीय रक्षा प्राधिकरण अधिनियम-कुछ जैव प्रौद्योगिकी संस्थाओं का विश्लेषण की धारा 1312 को तेजी से लागू करने का आग्रह करते हैं जिसके तहत रक्षा मंत्रालय (डीओडी) 180 दिन के भीतर पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (पीआरसी) की समस्याग्रस्त जैव प्रौद्योगिकी कंपनियों की पहचान करे और उन्हें डीओडी की चीनी सैन्य कंपनियों की 1260एच सूची में डाले।

दोनों सांसदों ने सीसीपी के सहयोग और अनुसंधान के साक्ष्यों के हवाले से रक्षा मंत्रालय से एमजीआई समूह और कंप्लीट जीनोमिक्स, इनोमिक्स और एसटीओमिक्स, ओरिजिनसेल, वाजाइम बायोटेक और एक्सबियो को चीनी सैन्य कंपनियों की श्रेणी में रखने पर विचार करने का आग्रह किया।

Advertisement

यह भी पढ़ें: लेस्बियन चाची ने भतीजी की भरी मांग, होटल में कई दिनों तक किया 'गंदा काम

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published April 2nd, 2024 at 13:24 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo