Updated May 16th, 2024 at 12:28 IST

ये 'एंटी सेक्स' बेड है क्या? पेरिस ओलंपिक में इस बिस्तर पर क्यों सोएंगे खिलाड़ी, जानें जवाब

Paris Olympics: कुछ रिपोर्टों में ये दावा किया गया है कि पेरिस ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले सभी खिलाड़ियों को 'एंटी सेक्स' बेड मिलेंगे।

Reported by: Ritesh Kumar
एंटी सेक्स बेड | Image:social media
Advertisement

Anti-Sex Beds in Paris Olympics: फ्रांस की राजधानी पेरिस में 'खेलों का महाकुंभ' यानि ओलंपिक का आयोजन होने वाला है। मेगा इवेंट से पहले बड़ी खबर सामने आई है। कुछ रिपोर्टों में ये दावा किया गया है कि पेरिस ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले सभी खिलाड़ियों को 'एंटी सेक्स' बेड मिलेंगे। इसके अलावा सभी खिलाड़ियों को 'अल्ट्रा लाइट बेड' दिए जाएंगे।

कुछ रिपोर्टों के अनुसार, कथित तौर पर किसी भी यौन गतिविधियों को रोकने के लिए, पेरिस ओलंपिक टीम ने एथलीटों के लिए बने कमरों में अल्ट्रा-लाइट कार्डबोर्ड बेड लगाए हैं। बता दें कि फ्रांस की राजधानी पेरिस में 26 जुलाई से 11 अगस्त तक 2024 ओलंपिक खेलों का आयोजन होगा।

Advertisement

एंटी सेक्स बेड्स क्या है?

न्यूयॉर्क पोस्ट की एक रिपोर्ट के अनुसार, ओलंपिक 2024 से पहले पेरिस में एंटी-सेक्स बेड आ गए हैं। उनकी सामग्री और छोटे आकार का उद्देश्य कथित तौर पर एथलीटों को प्रतियोगिता के दौरान सेक्सुअल एक्टिविटी को रोकना है।

Advertisement

न्यूयॉर्क पोस्ट ने रिपोर्ट दी है कि बेड का निर्माण एयरवेव द्वारा किया गया है, जिसने टोक्यो, जापान में 2020 ओलंपिक खेलों के लिए उत्पाद भी बनाए हैं। अल्ट्रा-लाइट कार्डबोर्ड बेड का उपयोग पहली बार 2021 में जापान में आयोजित टोक्यो ओलंपिक 2020 में किया गया था। यहीं पर एथलीटों द्वारा संभोग को रोकने के लिए बेड के निर्माण के बारे में अफवाहें पहली बार सामने आईं।

बता दें कि सेक्स विरोधी बिस्तरों के बारे में रिपोर्ट ओलंपिक धावक पॉल चेलिमो के उस ट्वीट के बाद आई, जिसमें उन्होंने कहा था कि ये बिस्तर टोक्यो ओलंपिक के दौरान एथलीटों के बीच यौन गतिविधियों को रोकने के लिए लगाए गए थे। हालांकि, हम इस बात की पुष्टि नहीं कर सकते कि 'एंटी सेक्स' बेड्स का इस्तेमाल सिर्फ सेक्सुअल एक्टिविटी को रोकने के लिए बनाया गया है। कुछ रिपोर्टों में ये भी दावा किया गया है कि इसे इसलिए बनाया गया क्योंकि इसका दोबारा इस्तेमाल हो सके, वहीं इन बेड्स से पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाला अपशिष्ट पैदा नहीं होता है। 

Advertisement

इसे भी पढ़ें: भारत के महान फुटबॉलर सुनील छेत्री ने किया संन्यास का ऐलान, इस दिन खेलेंगे आखिरी मुकाबला

 

Advertisement

Published May 16th, 2024 at 12:28 IST

Whatsapp logo