Advertisement

Updated June 6th, 2024 at 22:28 IST

Paris Olympic से पहले भारत के इस निशानेबाज ने किया धमाका, जीता गोल्ड मेडल

फ्रांस की राजधानी पेरिस में होने वाले आगामी ओलंपिक खेलों से पहले भारत के एक युवा निशानेबाज ने दुनिया में धाक जमाई है। इस निशानेबाज ने गोल्ड मेडल जीता है।

Sarabjot wins gold medal in Munich Shooting World Cup
इस युवा निशानेबाज ने जीता गोल्ड मेडल | Image:X/@Media_SAI
Advertisement

ISSF World Cup 2024 Munich: पेरिस ओलंपिक (Paris Olympics) को लेकर भारतीय एथलीटों की तैयारियां तेज हैं। इस बीच भारत के लिए बड़ी खुशखबरी आई है। भारत के एक युवा निशानेबाज ने इंटरनेशनल लेवल पर बड़ा धमाका किया है।

भारतीय निशानेबाज सरबजोत सिंह (Sarabjot Singh) ने गत वर्ल्ड चैंपियन और चार बार के ओलंपियन की मौजूदगी वाली पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में गुरुवार को गोल्ड मेडल जीता और म्यूनिख में ISSF शूटिंग वर्ल्ड कप 2024 में भारत के पदक का खाता खोला।

Advertisement

सरबजोत की शानदार जीत

22 साल के भारतीय निशानेबाज सरबजोत ने 8 निशानेबाजों के फाइनल में 242.7 अंक जुटाए। उन्होंने चीन के अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी चीन के बू शुआईहेंग को 0.2 अंक से पछाड़ा। जर्मनी के रोबिन वाल्टर ने ब्रॉन्ज मेडल जीता। सरबजोत ने बुधवार को क्वालीफाइंग में 588 अंक के साथ शीर्ष पर रहते हुए फाइनल में जगह बनाई थी। फाइनल में गत विश्व चैंपियन चीन के बोवेन झेंग और तुर्की के चार बार के ओलंपिक यूसुफ डिकेक भी चुनौती पेश कर रहे थे।

Advertisement

सरबजोत ने हालांकि फाइनल में लगातार अच्छा प्रदर्शन करते हुए ISSF शूटिंग वर्ल्ड कप में अपना दूसरा व्यक्तिगत पदक जीता। इससे पहले उन्होंने पिछले साल भोपाल में भी गोल्ड मेडल जीता था। युवा भारतीय निशानेबाज ने शुरुआती पांच शॉट में तीन बार 10 से अधिक अंक जुटाकर शुरुआती बढ़त बनाई। सरबजोत ने लगातार अच्छी निशानेबाजी की और 14वें शॉट से पहले तक बढ़त बरकरार रखी जब वाल्टर ने उनकी बराबरी कर ली। 

सरबजोत ने 15वें शॉट में 10.8 अंक के साथ अपना दावा मजबूत किया जबकि वाल्टर 8.6 अंक ही जुटा पाए। पांचवें नंबर पर झेंग के बाहर होने के बाद वाल्टर ने डिकेक को पछाड़कर ब्रॉन्ज मेडल जीता। अंतिम दो शॉट से पहले सरबजोत और बू के बीच 1.4 अंक का अंतर था और भारतीय निशानेबाज ने जीत दर्ज करके स्वर्ण पदक अपने नाम किया। इससे पहले सरबजोत पेरिस ओलंपिक के लिए चयन ट्रायल में भी शीर्ष पर रहे थे। सरबजोत ने चांगवोन में एशियाई निशानेबाजी चैंपियनशिप 2023 की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में भी कांस्य पदक जीता था और भारत के लिए पेरिस ओलंपिक का पहला पिस्टल कोटा हासिल किया था।

Advertisement

पिछले साल एशियन गेम्स में सरबजोत ने पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल टीम स्पर्धा का गोल्ड और 10 मीटर एयर पिस्टल मिश्रित टीम स्पर्धा का सिल्वर मेडल जीता था।

ये भी पढ़ें- T20 World Cup में धीमी पिचों पर निराश स्टॉयनिस बोले, ‘टूर्नामेंट की थीम यही लगती है’

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published June 6th, 2024 at 22:24 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

2 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
7 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo