Advertisement

Updated May 15th, 2024 at 19:28 IST

जेल, बदनामी और बैन... इस स्टार नेपाली क्रिकेटर का अब खत्म हुआ बुरा दौर, कोर्ट ने किया बाइज्जत बरी

आगामी T20 वर्ल्ड कप से पहले नेपाल के एक स्टार क्रिकेटर को बड़ी राहत मिली है। IPL खेल चुके इस नेपाली खिलाड़ी को कोर्ट ने बरी कर दिया है।

Reported by: DINESH BEDI
Nepali Cricketer Sandeep Lamichhane
रेप केस में बरी हुए स्टार नेपाली क्रिकेटर संदीप लामिछाने | Image:X@cricnepal
Advertisement

Nepal Cricket: अमेरिका और वेस्टइंडीज की संयुक्त मेजबानी में होने वाले T20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में अब कुछ ही दिन बाकी हैं। क्रिकेट के इस मेगा इवेंट से पहले नेपाल के एक स्टार क्रिकेटर के लिए बड़ी खुशखबरी आई है। नेपाल (Nepal) के एक हाई कोर्ट से इस खिलाड़ी को बड़ी राहत मिली है। 

नेपाल का ये वो खिलाड़ी है, जिसने पिछले 3-4 सालों में काफी बुरा वक्त देखा है। यौन शौषण के आरोप में जेल की सजा के बाद देश ही नहीं, दुनिया भर में बदनामी हुई और फिर नेपाल क्रिकेट एसोसिएशन की ओर से बैन झेलना पड़ा, लेकिन अब इस नेपाली क्रिकेटर का बुरा दौर खत्म हो गया है, क्योंकि कोर्ट ने उसे बाइज्जत बरी कर दिया है।  

Advertisement

दरअसल नेपाल के एक हाई कोर्ट की ओर से संदीप लामिछाने (Sandeep Lamichhane) को रेप केस में निर्दोष करार देते हुए बरी कर दिया गया है। लिहाजा अब वो आगामी T20 वर्ल्ड कप के लिए नेपाल क्रिकेट टीम में सेलेक्शन के लिए उपलब्ध रहेंगे। पाटन हाई कोर्ट ने बुधवार को संदीप लामिछाने के खिलाफ दायर यौन शौषण के मामले पर अपना अंतिम फैसला सुनाते हुए उन्हें निर्दोष ठहराया और पिछले फैसले को पलट दिया। बता दें कि काठमांडू जिला न्यायालय की ओर से रेप केस में संदीप लामिछाने को 8 साल जेल की सजा सुनाई गई थी। 

Advertisement

नेपाल क्रिकेट संघ ने बैन हटाया

Advertisement

नेपाल क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान संदीप लामिछाने (Sandeep Lamichhane) को हाई कोर्ट से नाबालिग युवती के साथ रेप के मामले में क्लीन चिट मिलने के बाद उन पर लगा बैन भी हट गया है। इस केस के चलते संदीप पिछले कुछ महीनों से खेल के मैदान से दूर थे, लेकिन अब नेपाल क्रिकेट एसोसिएशन (CAN) ने संदीप के घरेलू और इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने पर लगा बैन हटा दिया है। संदीप लामिछाने ने कोर्ट के इस फैसले के बाद अपने पिता के साथ पशुपतिनाथ मंदिर में दर्शन किए। 

बता दें कि संदीप लामिछाने पर 18 साल की युवती के साथ रेप का आरोप लगा था। 2022 में लामिछाने के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की गई थी। इसके बाद उन्हें नेपाल एयरपोर्ट पर गिरफ्तार कर लिया गया था। इसी साल की शुरुआत में काठमांडू जिला अदालत ने लामिछाने को दोषी पाया और 8 साल की सजा सुनाई। कोर्ट के इस फैसले के बाद नेपाल क्रिकेट संघ ने भी उन्हें सस्पेंड कर दिया था, लेकिन अब कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया है। 

ये भी पढ़ें- IPL 2024: दिल्ली अब भी दूर नहीं… 14 अंकों के साथ प्लेऑफ में पहुंचने का क्या है पूरा समीकरण?

Advertisement

Published May 15th, 2024 at 18:40 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

20 घंटे पहलेे
1 दिन पहलेे
1 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
5 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo