Advertisement

Updated April 2nd, 2024 at 18:41 IST

धोनी का वो छक्का, जिसके बाद देश की सड़कों पर आ गया था जनसैलाब...भारत के वर्ल्ड चैंपियन बनने की कहानी

आज का दिन भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत खास दिन है। आज ही के दिन भारत दूसरी बार वर्ल्ड चैंपियन बना था। धोनी की कप्तानी में भारत ने वनडे वर्ल्ड कप जीता था।

Reported by: DINESH BEDI
 India won the ODI World Cup on this day 13 years ago
भारत ने 13 साल पहले आज ही के दिन जीता था वर्ल्ड कप | Image:X@JayShah
Advertisement

ICC Cricket World Cup 2011: क्रिकेट के लिहाज से ये साल काफी रोमांचक रहने वाला है। दुनिया की सबसे लोकप्रिय T20 लीग खेली जा रही है और इसके बाद T20 वर्ल्ड कप का आयोजन होने वाला है। फैंस को हर दिन IPL में रोमांचक मुकाबले देखने को मिल रहे हैं। टूर्नामेंट में आज विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) और केएल राहुल की कप्तानी वाली लखनऊ सुपर जायंट्स के बीच टक्कर है, लेकिन आज का दिन एक और वजह से भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत खास है।

आज ही के दिन जीता था वर्ल्ड कप 

Advertisement

दरअसल भारतीय क्रिकेट टीम ने 13 साल पहले आज ही के दिन वनडे वर्ल्ड कप जीता था। एमएस धोनी की कप्तानी में भारत 28 साल के लंबे अंतराल के बाद वर्ल्ड चैंपियन बना था। 

वानखेड़े के मैदान पर धोनी ने लगाया था विनिंग छक्का

बता दें कि 2 अप्रैल 2011 को भारत वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल में श्रीलंका के सामने था। महेला जयवर्धने के शतक की बदौलत श्रीलंका ने 274 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया था, जिसका पीछा करते हुए भारतीय टीम को अच्छी शुरुआत नहीं मिली थी। दिग्गज सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर सस्ते में निपट गए थे। सहवाग तो खाता भी नहीं खोल पाए थे, लेकिन फिर दिल्ली के लड़कों गौतम गंभीर और विराट कोहली के बीच 83 रन की जबरदस्त पार्टनरशिप हुई। मगर 114 के स्कोर पर कोहली आउट हो गए। हालांकि गंभीर टिके रहे और फिर मैदान पर एंट्री हुई कैप्टन कूल एमएस धोनी की, जिनका बल्ला फाइनल में जमकर बोला। धोनी ने 91 रन की नाबाद पारी खेली। माही के विनिंग छक्के ने टीम इंडिया को मैच और वर्ल्ड कप जिताया।

Advertisement

धोनी के इस छक्के को आज भी भारतीय क्रिकेट फैंस भूल नहीं पाए हैं। यहां तक मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने उस जगह पर खास स्टैंड बना दिया है, जहां धोनी ने ये वर्ल्ड कप विनिंग छक्का लगाया था। गंभीर ने भी मैच में 97 रन की शानदार पारी खेली। बता दें कि भारत का ये दूसरा वर्ल्ड कप था। इससे पहले कपिल देव की कप्तानी में भारतीय टीम 1983 में वर्ल्ड कप जीती थी। भारत तब उस वक्त की दिग्गज टीम वेस्टइंडीज को हराकर वर्ल्ड चैंपियन बना था। 

ये भी पढ़ें- IPL में हवा टाइट, बाहर सुपरमैन बने फिर रहे हैं ईशान किशन; भड़के फैंस ने लगा दी क्लास

Advertisement

Published April 2nd, 2024 at 18:41 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo