Advertisement

Updated May 13th, 2024 at 19:24 IST

GT बल्लेबाज डेविड मिलर ने टी20 क्रिकेट के बारे में बोली बड़ी बात, स्ट्राइक रेट होगा सफलता का पैमाना

भविष्य में औसत नहीं, प्रभाव के आधार पर टीम में चुने जाएंगे खिलाड़ी: मिलर

david miller
david miller | Image:BCCI
Advertisement

David Miller: दक्षिण अफ्रीका और गुजरात टाइटंस के बल्लेबाज डेविड मिलर का मानना है कि जिनके पास अधिकतम प्रभाव डालने की क्षमता है, उनके लिए टी20 क्रिकेट में औसत धीरे-धीरे प्रासंगिकता खो देगा और स्ट्राइक रेट ही सफलता का एकमात्र पैमाना होगा।

पिछले कुछ वर्षों में मिलर ने टाइटंस और अपनी राष्ट्रीय टीम दोनों के लिए फिनिशर की भूमिका काफी अच्छी तरह निभाई है। इस आईपीएल सत्र में टीमों ने 250 से अधिक के सात स्कोर बनाए जिससे बल्लेबाज ‘पावर गेम’ (बड़े शॉट लगाना) को अगले स्तर पर ले गए हैं जिससे स्ट्राइक रेट को लेकर बहस तेज हो गई है।

Advertisement

मिलर ने पीटीआई वीडियो से कहा, ‘‘हमने इस वर्ष कुछ बड़े स्कोर देखे हैं। और इस आईपीएल में कुछ टीमों और व्यक्तिगत खिलाड़ियों ने अविश्वसनीय बल्लेबाजी की। मैंने हमेशा देखा है कि हर कोई बल्लेबाज को औसत के आधार पर आंकता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन टी20 क्रिकेट में किसी को पूरी तरह से इस आधार पर आंकना मुश्किल हो सकता है। शीर्ष तीन बल्लेबाजों के साथ निश्चित रूप से आप ऐसा कर सकते हैं, उन्हें बल्लेबाजी करने के लिए मिलने वाले ओवरों की संख्या के कारण। जब मध्य क्रम की बात आती है तो यह हमेशा स्ट्राइक रेट और बल्लेबाज का खेल पर किस प्रकार का प्रभाव पड़ रहा है, उस बारे में होता है।’’

इस 34 वर्षीय बल्लेबाज ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि जैसे-जैसे हम आगे बढ़ेंगे यह प्रभाव के बारे में और अधिक होता जाएगा। आप मुकाबले में कितने प्रभावशाली हैं? स्थिति के अनुसार। अगर हमें प्रति ओवर 15 रन चाहिए तो क्या आप ऐसा कर सकते हैं? और मुझे लगता है कि लोगों को मैच जीतने की क्षमता के आधार पर टीमों का चयन करना होगा।’’ अगले महीने होने वाले टी20 विश्व कप के संदर्भ में मिलर जसप्रीत बुमराह जैसे खिलाड़ियों के साथ कड़ी टक्कर की उम्मीद कर रहे हैं।

Advertisement

बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा, ‘‘बहुत सारे अच्छे भारतीय खिलाड़ी हैं। लेकिन मैं एक बल्लेबाज होने के नाते गेंदबाजों का सामना कर रहा हूं, इस समय बुमराह अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं। और वह कई वर्षों से विश्व स्तरीय गेंदबाज रहे हैं। वह मेरे लिए खतरा हैं, साथ ही विश्व कप के अन्य बल्लेबाजों के लिए भी।’’ उन्होंने टाइटंस के अपने साथी बल्लेबाज साई सुदर्शन की भी प्रशंसा की जो आईपीएल के मौजूदा सत्र में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहे हैं।

मिलर ने कहा, ‘‘वह बेहद प्रतिभाशाली खिलाड़ी है। अब भी उसके सामने लंबा करियर है। मैंने उसे खेलते हुए देखने का लुत्फ उठाया है। जिस तरह से वह तैयारी करता है वह मुझे बहुत पसंद है। वह एक बहुत ही सुलझे हुए दिमाग वाला युवा है जिसमें काफी प्रतिभा है।’’ अमेरिका में विश्व कप मिलर और दक्षिण अफ़्रीकी टीम को वैश्विक ट्रॉफी जीतने का मौका देगा। यह आक्रामक बल्लेबाज इस चुनौती को लेकर उत्साहित है। उन्होंने कहा, ‘‘इस समय हमारे पास जो टीम है, उसने पिछले कुछ वर्षों में एक साथ काफी क्रिकेट खेला है और इसमें काफी आत्मविश्वास है और काफी सफलता हासिल की है।’’

Advertisement

मिलर ने कहा, ‘‘हमारे पास काफी अनुभव है, ऐसे लोग जिन्होंने पहले भी दबाव का सामना किया है और इससे सफलतापूर्वक निपटे हैं। इसलिए मुझे इसमें कोई संदेह नहीं है कि हम एकजुट होकर टी20 विश्व कप में निश्चित रूप से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे। हमारे पास ऐसा करने के लिए खिलाड़ी हैं, ऐसा करने का कौशल है।’’

यह भी पढ़ें- DC vs RCB: विराट कोहली के आउट होने पर वाइफ अनुष्का ने क्यों मनाया जश्न, क्या है पूरा मामला? - Republic Bharat

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published May 13th, 2024 at 19:24 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo