Advertisement

Updated May 13th, 2024 at 23:37 IST

आभा खटुआ ने फेडरेशन कप एथलेटिक्स के महिला शॉट पुट में नेशनल रिकॉर्ड बनाया

भारत की अनुभवी शॉट पुट खिलाड़ी आभा खटुआ ने नेशनल फेडरेशन कप एथलेटिक्स प्रतियोगिता में जबरदस्त प्रदर्शन किया है और नेशनल रिकॉर्ड बनाया है।

Abha Khatua creates national record in women's shot put of Federation Cup Athletics
आभा खटुआ ने फेडरेशन कप एथलेटिक्स के महिला शॉट पुट में नेशनल रिकॉर्ड बनाया | Image:X
Advertisement

Athletics Tournament: भारतीय अनुभवी एथलीट आभा खटुआ ने नेशनल फेडरेशन कप एथलेटिक्स प्रतियोगिता के दूसरे दिन सोमवार को भुवनेश्वर में 18.41 मीटर की दूरी के साथ महिलाओं के शॉट पुट में नेशनल रिकॉर्ड बनाया है।

महाराष्ट्र का प्रतिनिधित्व कर रहीं आभा इस प्रतियोगिता से पहले मनप्रीत कौर के साथ 18.06 मीटर की संयुक्त रिकॉर्ड धारक थीं। उन्होंने हालांकि भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में पांचवें प्रयास में 18.41 मीटर की थ्रो के साथ नया नेशनल रिकॉर्ड कायम किया। उनका प्रयास ओलंपिक क्वालीफाइंग स्तर 18.80 मीटर से काफी कम था। ओलंपिक क्वालीफाई का समय 30 जून को खत्म हो रहा है। 

Advertisement

दूसरे-तीसरे स्थान पर कौन? 

उत्तर प्रदेश की किरण बलियान (16.54 मीटर) और दिल्ली की सृष्टि विज (15.86 मीटर) क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रहीं। पुरुषों की 200 मीटर फाइनल में ओडिशा के अनिमेश कुजूर ने प्रभावशाली 20.62 सेकंड दौड़ लगाई। यह अमलान बोरगोहेन के दो साल पुराने 20.52 सेकंड के राष्ट्रीय रिकॉर्ड से एक सेकंड का दसवां हिस्सा कम है।

Advertisement

आभा खटुआ के संघर्ष की कहानी

गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाली 28 वर्षीय आभा ने सातवीं कक्षा में ही एथलेटिक्स शुरू कर दिया था। पश्चिम बंगाल के पश्चिम मिदनापुर जिले के नारायणगढ़ शहर के पास खुर्शी गांव में एक किसान पिता के घर जन्मी खटुआ ने चार साल पहले शॉट पुट शुरू करने से पहले कई एथलेटिक्स स्पर्धाओं में भाग लिया था। उन्होंने ने शुरुआत में 100 मीटर, 200 मीटर, 400 मीटर, लंबी कूद और भाला फेंक में भाग लिया। उन्होंने 2017-18 में हेप्टाथलॉन में भी भाग लिया था। इन स्पर्धाओं में अनुकूल परिणाम नहीं मिलने पर उन्होंने 2018 के अंत में गोला फेंक में हाथ आजमाना शुरू किया और 2019 में पटियाला में राष्ट्रीय शिविर में शामिल हो गईं।

Advertisement

कोरोना, चिकनगुनिया और उच्च यूरिक एसिड से पीड़ित होने के साथ दाहिनी कोहनी में भी चोट लगने से उनके लिए साल 2021 बेहद निराशाजनक रहा। वो भुवनेश्वर में राष्ट्रीय अंतर-राज्य चैंपियनशिप में तीसरे स्थान (16.39 मीटर) पर रहने एशियाई खेलों में जगह बनाने से चूक गईं थी। आभा ने बाद में जुलाई में थाईलैंड में एशियाई चैंपियनशिप में मनप्रीत कौर के राष्ट्रीय रिकॉर्ड की बराबरी करने के साथ रजत पदक हासिल किया था।

ये भी पढ़ें- IPL 2024: प्लेऑफ में एंट्री की राह ताक रहे राजस्थान रॉयल्स को बड़ा झटका, संकट कैसे उबरेगी टीम?

Advertisement

Published May 13th, 2024 at 23:37 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo