Advertisement
पब्लिश्ड 3 फ़रवरी 2024 अत 2:30 pm ईस्ट

PM मोदी ने दिखा दी ताकत!

ये उनके ध्वजवाहक हैं जो 'कट्टर ईमानदारी' की चाशनी से पार्टी को चमकाने में लगी रहती है....लेकिन उनकी 'कट्टर ईमानदारी' के मुरब्बे की मिठास फीकी पड़ने लगी है....और इसका दोष भी पीएम मोदी पर मढ़ने की जुगत में हैं....जब-जब चुनावी मैदान में विपक्ष को मुंह की खानी पड़ी है तो EVM पर ठीकरा फोड़ा और बैलेट पेपर की बाजीगरी का बिगुल बजाने में जुट जाते हैं। चुनाव आयोग को EVM पर कई बार अग्निपरीक्षा से गुजरना पड़ा और हर बार विपक्ष के आरोप टॉय-टॉय फिस्स हुए। अब देखिए ना चंडीगढ़ मेयर चुनाव बैलेट पेपर से हुआ और कांग्रेस-AAP गठबंधन की करार हार हुई तो विपक्ष धांधली के आरोप लगा रहा है> विपक्ष भले ही ईवीएम और बैलेट पेपर के बहाने बीजेपी पर हमला कर रहा है लेकिन उन्हें एहसास हो गया है कि 2024 में मोदी को हराना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। यही वजह है कि कांग्रेस गाहे-बगाहे ही सही अब इस बात को स्वीकार करने लगी है

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
;