Advertisement
पब्लिश्ड 15 मई 2024 अत 8:34 pm ईस्ट

रामभक्त Vs रामविरोधी', 'गद्दी' होगी किसकी?

कहते हैं कि फैजाबाद लोकसभा सीट का मिजाज हमेशा बदला-बदला सा रहता है। ये सीट किसी एक दल के पल्लू से लंब समय तक बंध कर नहीं रही है। यहां लगभग सभी दलों को जीत मिली है। लेकिन 500 सालों में पहली बार अयोध्या का रंग हर बार से जुदा है। अयोध्या में बीजेपी की सरकार में राम मंदिर बन गया है। 5 तारीख को पीएम मोदी के दो किलोमीटर लंबे रोड शो में उमड़ी लाखों की भीड़ ने फैजाबाद सीट पर हिंदुत्‍व और मोदी लहर का रंग गाढ़ा कर दिया है। राम मंदिर का मुद्दा एक बार फिर जोर पकड़ रहा है। मतदान से ठीक पहले बीजेपी और इंडी गठबंधन ने चुनाव प्रचार को जनसंपर्क से जोड़ा है। घर-घर और गांव-गांव संपर्क अभियान चल रहा है। बीजेपी और इंडी चुनाव प्रचार के जोरदार दावे कर रहे हैं, लेकिन वोटर अपने मन में वोट का गणित सेट कर चुके हैं।

Published May 15th, 2024 at 20:34 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo