Advertisement

Updated May 15th, 2024 at 19:29 IST

उत्तराखंड: दो भाइयों ने पेश की मिसाल, बने श्रवण कुमार...मां को पालकी पर बैठा कराई चारधाम की यात्रा

श्रवण कुमार ने अपने कंधे पर अपनी मां और पिता को तीर्थ यात्रा करवाई थी। त्रेतायुग के श्रवण की तरह ही कलयुग में भी उत्तरकाशी में ऐसा ही कुछ नजारा देखने को मिला।

Reported by: Nidhi Mudgill
Advertisement

Uttarkashi News: माता और पिता की सेवा करने का जिक्र जभी होता है तो सनातन धर्म में श्रवण कुमार का उदाहरण दिया जाता है। क्योंकि श्रवण कुमार ने अपने कंधे पर अपनी मां और पिता को तीर्थ यात्रा करवाई थी। त्रेतायुग के श्रवण की तरह ही कलयुग में भी ऐसा ही कुछ नजारा देखने को मिल रहा है। जी हां उत्तराखंड के उत्तरकाशी से एक वीडियो सामने आया है जिसमें श्रवण की तरह दो भाई अपनी माता को पालकी पर बैठाकर चारधाम की यात्रा पर निकले हैं।  

पालकी पर बैठाकर मां को चारधाम यात्रा कराने निकले

इस नेक काम को देखते हुए दोनों बेटों की उत्तराखंड पुलिस ने भी मदद की, साथ ही पालकी के जरिए चारधाम यात्रा पर आए बेटों का वीडियो भी शेयर किया। पुलिस ने कहा कि, “लाखों श्रद्धालुओं के बीच नूरपुर निवासी धीरज और तेजपाल श्रवण कुमार बनके पालकी में अपनी माता को लेकर चारधाम यात्रा पर आये हैं”।

यह भी पढ़ें : Bihar: मोकामा के पूर्व MLA अनंत सिंह बोले- नीतीश कुमार की तरह कोई CM...

Advertisement

पहाड़ी रास्तों पर SI राजा डोभाल ने की मदद

वहीं यमुनोत्री धाम की यात्रा के दौरान राडी टॉप पर SI राजा डोभाल ने जब धीरज-तेजपाल और उनकी माता को देखा तो वह उनके पास पहुंचे और उन्हें भोजन कराया। इसके बाद उन्हें सुरक्षित जंगल का रास्ता पार कराया। क्योंकि उत्तरकाशी में कुछ पहाड़ी रास्ते ऐसे थे जो काफी सुनसान थे, ऐसे में SI राजा डोभाल ने उन्हें आगे का रास्ता दिखाया और उनकी मदद की। 

Advertisement

यह भी पढ़ें : BJP नेता नवनीत राणा के घर चोरी, हाउस स्टाफ पर संदेह;2 लाख लेकर हुआ फरार

Advertisement

Disclaimer: आर्टिकल में बताई विधियां, तरीके और दावे अलग-अलग जानकारियों पर आधारित हैं।  REPUBLIC BHARAT आर्टिकल में दी गई जानकारी के सही होने का दावा नहीं करता। किसी भी उपचार और सुझाव को अप्लाई करने से पहले डॉक्टर या एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

Published May 15th, 2024 at 18:55 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo