Advertisement

Updated June 7th, 2024 at 20:47 IST

हाई BP के मरीजों के लिए एक्सरसाइज फायदेमंद, डिमेंशिया का खतरा होता है कम; रिसर्च में बड़ा खुलासा

शारीरिक रूप से सक्रिय रहने से हाई बीपी से पीड़ित लोगों में मनोभ्रंश रोग (डिमेंशिया) के खतरे को कुछ कम किया जा सकता है। एक नये शोध में यह जानकारी सामने आई है।

BP
एक्सरसाइज से कम होता है डिमेंशिया का खतरा | Image:freepik
Advertisement

High BP Patients Risk Of Dementia: शारीरिक रूप से सक्रिय रहने से उच्च रक्तचाप से पीड़ित बुजुर्ग लोगों में मनोभ्रंश रोग (डिमेंशिया) के खतरे को कुछ कम किया जा सकता है। एक नये शोध में यह जानकारी सामने आई है। मनोभ्रंश रोग (डिमेंशिया) दिमाग की क्षमता का निरंतर कम होना है। इस रोग से ग्रस्त व्यक्ति की याददाशत भी कमजोर हो जाती है और वे अपने दैनिक कार्य ठीक से नहीं कर पाते।

पिछले अध्ययनों में पाया गया है कि उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों में डिमेंशिया का शिकार होने का खतरा अधिक होता है और इससे प्रभावित लोगों में व्यक्ति की याददाश्त और सोचने की क्षमता प्रभावित होती है। इस शोध में, अमेरिका के वेक फॉरेस्ट विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने जांच की कि शारीरिक गतिविधियां उच्च रक्तचाप से पीड़ित बुजुर्ग लोगों में डिमेंशिया के खतरे को कैसे कम कर सकती है।

Advertisement

शोधकर्ताओं ने बताया कि शोध में शामिल लगभग 60 प्रतिशत प्रतिभागियों की आयु 50 वर्ष या उससे अधिक थी। वेक फॉरेस्ट विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन में आंतरिक चिकित्सा के सहायक प्रोफेसर रिचर्ड काजीब्वे ने कहा, ‘‘यह अच्छी खबर है कि बड़ी संख्या में बुजुर्ग लोग व्यायाम कर रहे हैं। इससे यह भी पता चलता है कि वृद्ध लोग व्यायाम करने के महत्व को समझते हैं।’’

व्यायाम से कम होता है डिमेंशिया का खतरा

‘अल्जाइमर्स एंड डिमेंशिया: द जर्नल ऑफ द अल्जाइमर्स एसोसिएशन’ में प्रकाशित अध्ययन के प्रमुख लेखक काजीब्वे ने कहा कि हालांकि यह अध्ययन इस बात का प्रमाण देता है कि व्यायाम करने से उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों में डिमेंशिया का खतरा कम किया जा सकता है। शोध में 50 वर्ष और उससे अधिक आयु के उच्च रक्तचाप से पीड़ित 9,300 से अधिक प्रतिभागी शामिल हुए थे।

यह भी पढ़ें… Turmeric Benefits: ये 6 कारण डाइट में हल्दी शामिल करने पर कर देंगे मजबूर, फायदे जान उड़ जाएंगे होश

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Disclaimer: आर्टिकल में बताई विधियां, तरीके और दावे अलग-अलग जानकारियों पर आधारित हैं।  REPUBLIC BHARAT आर्टिकल में दी गई जानकारी के सही होने का दावा नहीं करता। किसी भी उपचार और सुझाव को अप्लाई करने से पहले डॉक्टर या एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

Published June 7th, 2024 at 20:47 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

3 घंटे पहलेे
1 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo