Advertisement

Updated April 3rd, 2024 at 15:42 IST

यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक का मास्‍टर माइंड गिरफ्तार, कई बड़े एग्‍जाम में कर चुका है ऐसा काम

यूपी पुलिस की सिपाही भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले का मुख्‍य आरोपी राजीव नयन मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Reported by: Ankur Shrivastava
यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक का मास्‍टर माइंड गिरफ्तार
यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक का मास्‍टर माइंड गिरफ्तार | Image:Republic
Advertisement

STF Arrests Mastermind Behind Paper Leak: यूपी पुलिस की सिपाही भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले का मुख्‍य आरोपी राजीव नयन मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तारी ग्रेटर नोएडा के पास से हुई है। बताया जा रहा है कि राजीव नयन मिश्रा पहले भी कई बड़े एग्‍जाम के पेपर लीक करवा चुका है और जेल भी जा चुका है। यूपी पुलिस और STF कई दिनों से उसकी तलाश में छापेमारी कर रही थी।

आपको बता दें कि यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा का आयोजन 18 फरवरी को हुआ था। इसके कुछ दिन बाद ही सामने आया था कि परीक्षा के पेपर लीक हुए थे। इसके बाद योगी सरकार ने एग्जाम को दोबारा आयोजित कराने की बात कही थी। साथ ही पेपर लीक मामले की जांच के लिए स्पेशल टीम का भी गठन किया था। 

Advertisement

मुखबिर से मिली थी जानकारी

एसटीएफ के मुताबिक, 2 अप्रैल की शाम मुखबिर की सूचना के आधार पर यूपी पुलिस कांस्टेबल परीक्षा का पेपर लीक करने वाले मुख्य आरोपी राजीव नयन मिश्रा निवासी ग्राम अमोरा थाना मेज़ा प्रयागराज व वर्तमान निवासी 97 भरत नगर जेके रोड भोपाल को परी चौक ग्रेटर नोएडा से गिरफ़्तार किया गया। एसटीएफ ने आगे कहा कि आरोपी थाना कंकरखेड़ा मेरठ के क्राइम केस 166/24 की धारा 420/467/468/471/120B IPC 2/3/7/8/9 उत्तर प्रदेश सार्वजनिक परीक्षा अधिनियम में वांछित चल रहा था। इसी केस में अभियुक्त राजीव को दाखिल किया गया है।

Advertisement

पहले भी जा चुका है जेल

एसटीएफ ने आगे कहा कि पूछताछ में पता चला कि गुड़गांव के अलावा राजीव ने रीवा के भी एक रिसोर्ट में अपने गैंग के साथ पेपर पढ़वाया था। आरोपी पहले भी NHM घोटाले में ग्वालियर और यूपी टेट पेपर लीक में कौशांबी से जेल जा चुका है।

Advertisement

48 लाख से अधिक लोगों ने किया था रजिस्ट्रेशन

जानकारी के लिए बता दें कि यूपी पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा में करीबन 48 लाख उम्मीदवारों ने आवेदन किया था, पर पेपर लीक की वजह से परीक्षा रद्द करनी पड़ी थी। कांस्टेबल रद्द होने के बाद से ही यूपी पुलिस और एसटीएफ पेपर लीक मामले के आरोपियों तक पहुंचने की कोशिश में जुटी हुई थी। अभी तक इस पेपर लीक मामले में 300 से ज्यादा आरोपी पकड़े जा चुके हैं।
 

Advertisement

Published April 3rd, 2024 at 12:31 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo