Advertisement

Updated June 6th, 2024 at 11:33 IST

अखिलेश यादव के इस करीबी के चेहरे पर DIG ने रगड़ा था जूता, आज बन गए सांसद; फोटो VIRAL

UP News: उत्तर प्रदेश के 80 सीटों में से 37 सीटों पर अखिलेश यादव की पार्टी ने कब्जा किया, जबकि बीजेपी के खाते में 33 सीटें आईं।

Reported by: Ritesh Kumar
lakhimpur kheri dhaurehra seat candidate anand bhadauria won election
DIG ने रगड़ा था जूता, अब बने सांसद | Image:facebook
Advertisement

UP Election 2024 Result: लोकसभा चुनाव 2024 में भले ही NDA ने बाजी मार ली लेकिन उत्तर प्रदेश से जो नतीजे सामने आए हैं वो पीएम मोदी और बीजेपी के लिए चिंता का विषय है। यूपी में समाजवादी पार्टी ने दमदार प्रदर्शन किया है और सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी। उत्तर प्रदेश के 80 सीटों में से 37 सीटों पर अखिलेश यादव की पार्टी ने कब्जा किया, जबकि बीजेपी के खाते में 33 सीटें आईं। इस बीच यूपी की धौरहरा सीट से जीत दर्ज करने के बाद से सपा प्रत्याशी आनंद भदौरिया चर्चा का विषय बने हुए हैं।

आनंद भदौरिया अब धौरहरा सीट से सांसद हो गए हैं। लोकसभा चुनाव में उन्होंने बीजेपी प्रत्याशी रेखा वर्मा को 4,449 मतों से हरा दिया। आनंद समाजवादी पार्टी के उन युवा नेताओं में से एक हैं जो अखिलेश यादव के बहुत करीबी माने जाते हैं। लेकिन उनके लिए कार्यकर्ता से सांसद बनने तक का सफर आसान नहीं रहा।

Advertisement

DIG ने चेहरे पर रगड़ दिया था जूता

बात 2011 की है जब आनंद भदौरिया का नाम पहली बार सुर्खियों में आई थी। उस समय प्रदेश में बसपा की सरकार थी और किसी मुद्दे को लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता विधानसभा के सामने प्रोटेस्ट कर रहे थे। यूपी पुलिस एक्शन में आई और सपा के कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किया। इस दौरान आनंद भदौरिया जमीन पर गिर गए थे और फिर घटनास्थल पर मौजूद डीआईजी ने उनके चेहरे पर अपना जूता रगड़ा था जिसकी तस्वीर एक पत्रकार ने खींच ली थी।

Advertisement

ये तस्वीर उस समय बड़ी हेडलाइन बनी थी और दावा किया गया था कि पुलिस के अधिकारी ने आनंद भदौरिया को जूते से मारा। इस घटना के बाद समाजवादी पार्टी ने कड़ा विरोध किया और अखिलेश यादव ने इस मुद्दे को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की थी।

Advertisement

2016 में विधान परिषद के सदस्य बने

2012 में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने के बाद आनंद भदौरिया की किस्मत बदली। 2016 में वो लोकल बॉडी के विधान परिषद चुनाव में लड़े और विधान परिषद के सदस्य बने। आनंद 2022 तक इसी पद पर रहे और अब लोकसभा चुनाव में धौरहरा सीट से जीत हासिल कर नवनिर्वाचित सांसद बन गए हैं। 

Advertisement

इसे भी पढ़ें: मोदी 3.0 के शपथ ग्रहण को भव्य बनाने की तैयारी, शामिल हो सकते हैं ये विदेशी मेहमान;इन देशों को न्योता


 

Advertisement

Published June 6th, 2024 at 09:49 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

2 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
7 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo