Advertisement

Updated June 11th, 2024 at 10:27 IST

Reasi Attack: चेकपोस्‍ट पार कर रफ्तार में भागती दिखी संदिग्ध गाड़ी, हमले वाले स्‍पॉट का CCTV वीडियो

Terrorist Attack: रियासी में हुए हमले के हमले के एक मिनट बाद वहां से एक गाड़ी पार हुई थी, जो अब जांच के दायरे के में आ गई है।

Reported by: Ruchi Mehra
Reasi Attack
रियासी आतंकी हमला | Image:PTI, Republic
Advertisement

Reasi Terror Attack: रविवार (9 जून) को जम्मू-कश्मीर के रियासी में हुए आतंकी हमले के बाद आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन लगातार जारी है। जंगल में छिपे आतंकियों की तलाश में सुरक्षाबल जुटे हुए हैं। हमले में 9 लोगों की मौत हुई है, जबकि 33 लोग घायल हुए।

आज (11 जून) को ऑपरेशन का आज तीसरा दिन है। सोमवार सुबह से ही यहां बड़े पैमाने पर तलाश अभियान शुरू हो गया था। सुरक्षा टीम को इनपुट मिले हैं कि आतंकी रियासी की पहाड़ी में छिपे हैं। इसके बाद सुरक्षाबलों ने पूरा जंगल खंगालना शुरू कर दिया। वहीं हमले की जांच NIA को सौंपी गई है। इस बीच हमले की जगह से एक और CCTV फुटेज सामने आया है, जिसमें वहां एक संदिग्ध गाड़ी दिखी है।  

Advertisement

CCTV में दिखी संदिग्ध गाड़ी

जानकारी के मुताबिक रियासी में हुए हमले के दौरान वहां से एक संदिग्ध गाड़ी को देखा गया, जो अब जांच के दायरे के में आ गई है। बताया जा रहा है कि राजौरी से गाड़ी को पुंछ में अज्ञात व्यक्ति को बेच दिया गया। हमले के तुरंत बाद ही गाड़ी तीन CCTV कैमरों में दिखी। कार वाहन चेक पोस्ट पर भी नहीं रुकी और राजौरी जिले की ओर तेजी से बढ़ गई। अब इसकी जांच की जा रही है कि क्या इस गाड़ी का रियासी आतंकी हमले से कोई कनेक्शन है?

Advertisement

बस पर चलाई ताबड़तोड़ गोलियां

बता दें कि रियासी में 9 जून को शाम 6 बजकर 15 मिनट पर यह आतंकी हमला हुआ। यहां शिवखोड़ी धाम से दर्शन कर लौटते समय तीर्थयात्रियों की बस पर आतंकियों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई। हमले के बाद ड्राइवर ने बस से नियंत्रण खो दिया। इसके बाद बस गहरी खाई में गिर गई। घटना में अबतक 9 लोगों की मौत हुई है, जिसमें तीन महिलाएं भी शामिल हैं। वहीं, 33 लोग घायल हुए हैं।

Advertisement

हमले के पीछे लश्कर का हाथ?

इस हमले के बाद आतंक के खिलाफ फिर एक्शन की मांग तेज होने लगी है। वहीं सुरक्षाबल भी आतंकियों की तलाश के लिए जंगलों को खंगाल रहे हैं। उधमपुर रियासी रेंज के डीआईजी रईस मोहम्मद भट ने कहा, "हमारी सर्च टीम काम पर है। हमने अपनी 11 टीमों का इस्तेमाल किया है और उन सभी को इलाके में तैनात किया गया है। सेना की टीमें और सीआरपीएफ की टीमें संयुक्त रूप से काम कर रही हैं।" उन्होंने इस हमले के पीछे आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का हाथ होने का शक जताया है।

Advertisement

यह भी पढ़ें: 'कोई हैरानी की बात नहीं कि आतंकी हमला हुआ...' रियासी आतंकी हमले पर आया उमर अब्दुल्ला का बयान
 

Advertisement

Published June 11th, 2024 at 08:25 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
1 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
6 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo