Advertisement

Updated June 8th, 2024 at 13:05 IST

'सबके अखिलेश-अयोध्या के...' लखनऊ में सपा दफ्तर के सामने लगी होर्डिंग की क्यों हो रही है इतनी चर्चा?

सपा प्रमुख अखिलेश यादव के नेतृत्व में शनिवार को सभी नवनिर्वाचित सांसदों की एक बड़ी बैठक होने जा रही है, जिसमें पार्टी की आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Dalchand Kumar
Samajwadi Party posters
समाजवादी पार्टी के दफ्तर के बाहर होर्डिंग लगाए गए। | Image:Video Grab
Advertisement

Samajwadi Party Poster: लोकसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन के बाद समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव ने अपने सांसदों की बैठक बुलाई है। अखिलेश यादव लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय में बैठक करने जा रहे हैं। इसके पहले लखनऊ में समाजवादी पार्टी के मुख्यालय के बाहर लगे पोस्टर चर्चा का विषय बन चुके हैं। इन पोस्टर में अखिलेश यादव के साथ-साथ अयोध्या से चुनाव जीतने वाले अवधेश प्रसाद की तस्वीर भी लगाई गई है।

अमेठी के समाजवादी पार्टी के नेता जयसिंह प्रताप यादव ने समाजवादी पार्टी कार्यालय के बाहर होर्डिंग लगवाई है। नवनिर्वाचित सांसदों की बैठक से पहले लगे इन होर्डिंग में लिखा गया है- 'सबके श्री अखिलेश-अयोध्या के अवधेश'। ये पोस्टर इसलिए अहम है कि समाजवादी पार्टी को राम मंदिर जैसे मुद्दे के बावजूद बीजेपी फैजाबाद/अयोध्या में हरा नहीं पाई है। ऐसा तब हुआ है जब चुनावों से ठीक पहले अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की गई। इसी को फोकस करते हुए लखनऊ में अवधेश प्रसाद के पोस्टर लगे हैं।

Advertisement

फैजाबाद/अयोध्या सीट पर BJP को हार मिली

फैजाबाद/अयोध्या लोकसभा क्षेत्र 20 मई को आम चुनावों के 5वें चरण के मतदान हुआ था। रामलला की जन्मस्थली पर 'प्राण प्रतिष्ठा' या औपचारिक रूप से विराजमान किए जाने के बाद बीजेपी राम मंदिर के आसरे मजबूत वोट को साधने के आसरे खड़ी थी। बीजेपी ने यहां से मौजूदा सांसद लल्लू सिंह को टिकट दिया था, जिनका मुकाबला समाजवादी पार्टी के अवधेश प्रसाद से रहा। 4 जून को घोषित लोकसभा चुनाव नतीजों में अवधेश प्रसाद ने लल्लू सिंह को पटखनी दे दी। ये हार बीजेपी के लिए बहुत बड़ी हार रही है।

Advertisement

अखिलेश अब बनाएंगे आगे की रणनीति

सपा प्रमुख अखिलेश यादव के नेतृत्व में शनिवार को सभी नवनिर्वाचित सांसदों की एक बड़ी बैठक होने जा रही है, जिसमें पार्टी की आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी। अखिलेश यादव अपने नवनिर्वाचित सांसदों के साथ बैठक करेंगे और उन्हें जीत की बधाई भी देंगे। उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने 37 सीटें जीतीं हैं और राज्य की सबसे बड़ी पार्टी बनी है। बीजेपी ने 33, कांग्रेस ने 6, राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) ने 2 और आजाद समाज पार्टी (कांशीराम) और अपना दल (सोनीलाल) ने 1-1 सीट जीतीं।

Advertisement

यह भी पढ़ें: थप्पड़ कांड के बाद कंगना रनौत पर बरस पड़ीं हरसिमरत कौर बादल

Advertisement

Published June 8th, 2024 at 13:00 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
1 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
6 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo