Advertisement

Updated April 1st, 2024 at 18:39 IST

मौत का केक! पंजाब पुलिस को नहीं मिली वो दुकान जहां से Cake हुआ डिलीवर, घरवालों ने ढूंढ निकाला

पंजाब के पटियाला में केक खाने से दस साल की बच्ची की मौत पर बड़ा खुलासा हुआ है। घरवालों ने उस दुकान का पता ढूंढ निकाला है जहां से केक डिलीवर किया गया था।

Reported by: Rupam Kumari
10 year old girl dies after eating cake
केक खाने से 10 साल की बच्ची की मौत | Image:X
Advertisement

पंजाब के पटियाला से रविवार को दिल दहलाने वाली खबर सामने आई है। एक परिवार ने दावा किया है कि केक खाने से 10 साल की बच्ची की मौत हो गई है। बच्ची की मौत उसके जन्मदिन वाले ही दिन हो गई। पल भर में परिवार की खुशियां मातम में बदल गई। मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बेकरी मालिक समेत चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। वहीं, अब परिवार ने भी ऑनलाइन केक डिलीवरी करने वाली दुकान का पता निकाल लिया है।

पटियाला से आई इस घटना के बाद पूरे इलाके में मातम पसरा हुआ है। मृतक बच्ची की पहचान मानवी के रूप में हुई है। 10 साल की बच्ची की मौत के बाद परिवार वालों ने इसकी शिकायत पुलिस से की। पुलिस ने एक्शन लेते हुए बेकरी मालिक समेत चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। मगर पुलिस उस दुकान का पता नहीं निकाल पाई जहां से Cake ऑनलाइन डिलीवर हुआ था। मगर बच्ची के घर वालों ने दुकान का पता खोज निकाला है।

Advertisement

न्यू इंडिया बेकरी से डिलीवर हुआ था केक

केक के आर्डर जोमैटो से किया गया था। जांच पता चला कि जिस फॉर्म से केक की डिलीवर की गई थी वो फर्जी था। असल में ये केक न्यू इंडिया बेकरी से डिलीवर की गई थी। मानवी की मौत के बाद परिजनों ने केक भेजने वाले कान्हा फर्म के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। मगर पुलिस जब इसकी जांच करने निकली तो पता चला कि उसमें जो पता दिया गया था वो फर्जी निकला और वहां ऐसी कोई दुकान ही नहीं थी।

Advertisement

बच्ची की परिजनों ने ढूंढ निकाला दुकान का पता

मानसी के परिजनों ने सच्चाई का पता करने के लिए  30 मार्च को फिर से जोमैटो के जरिए उसी कान्हा फर्म से फिर एक केक मंगवाया और जब केक की डिलीवरी करने एजेंट पहुंचा तो घरवालों ने उसे पकड़ लिया। फिर पुलिस को इसकी सूचना दी गई।  पुलिस डिलीवरी एजेंट के साथ केक भेजने वाली दुकान पर पहुंची तो पता चला कि कान्हा फर्म फर्जी थी और केक न्यू इंडिया बेकरी से भेजा गया था।

Advertisement

न्यू इंडिया बेकरी का मालिक फरार

अब पुलिस ने इस मामले में एक्शन लेते हुए न्यू इंडिया बेकरी के कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है जबकि इसका मालिक फरार है। मैनेजर रणजीत, कर्मचारी पवन और विजय को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक,न्यू इंडिया बेकरी के मालिक ने ही कान्हा फर्म नाम से एक और बेकरी रजिस्टर्ड करा रखा था और जोमैटो पर डिलीवरी के लिए इसी नाम का इस्तेमाल करता था। मामले में ऑनलाइन फूड डिलीवरी ऐप जोमैटो ने भी घटना पर दुख जताते हुए इस फर्म को अपनी लिस्ट से बाहर कर दिया। 

Advertisement

यह भी पढ़ें: जन्मदिन पर मौत! केक खाकर मरी 10 साल की बच्ची, मातम में बदली बर्थडे पार्टी; पटियाला में दर्दनाक घटना
 

Advertisement

Published April 1st, 2024 at 12:49 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo