Advertisement

Updated April 1st, 2024 at 22:10 IST

कांग्रेस नेताओं के बीजेपी में शामिल होने में केवल एक फोन कॉल की देरी, सीएम हिमंता का बड़ा दावा

Assam News : क्या और भी कांग्रेस नेता सत्ताधारी पार्टी में शामिल होने के लिए कतार में हैं? इस सवाल पर सीएम हिमंता ने कहा, 'अगर मैं आज कहूं तो वे सभी आ जाएंगे।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Sagar Singh
Assam Chief Minister Himanta Biswa Sarma
असम सीएम हिमंता बिस्वा सरमा | Image:Republic
Advertisement

असम के मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने सोमवार को कहा कि कांग्रेस नेताओं के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने में केवल एक ‘फोन कॉल’ करने की देरी है, लेकिन उनके में से कई को अपनी पार्टी में समायोजित करने से जुड़ी चुनौतियों के कारण वह ऐसा नहीं कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने इस धारणा को भी खारिज कर दिया कि राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी के खिलाफ विपक्षी दलों के एकजुट होने से भाजपा की चुनावी संभावनाओं पर असर पड़ेगा।

एक पखवाड़े तक चलने वाली ‘विजय संकल्प यात्रा’ की शुरुआत पर माजुली में आयोजित 15 किलोमीटर की साइकिल रैली के समापन के बाद पत्रकारों से बातचीत में शर्मा ने भाजपा की ताकत पर भरोसा जताया। राज्य की पांच लोकसभा सीट पर 19 अप्रैल को चुनाव की तैयारी चल रही हैं। माजुली क्षेत्र जोरहाट निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आता है। सैकड़ों पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ रैली में चल रहे शर्मा को लोगों ने सम्मान व्यक्त करने के लिए पारंपरिक असमिया पटका (जिसे ‘गमोसा’ कहा जाता है) पहनाया।

Advertisement

पहले चरण में होगा मतदान

भाजपा ने अपने मौजूदा सांसद तपन कुमार गोगोई को जोरहाट सीट से प्रत्याशी घोषित किया है। कांग्रेस ने निवर्तमान लोकसभा में पार्टी के उपनेता गौरव गोगोई को मैदान में उतारा है। गोगोई निवर्तमान लोकसभा में कालियाबोर का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं, जिसे राज्य में निर्वाचन क्षेत्रों के परिसीमन के बाद काजीरंगा नाम दिया गया है। जोरहाट के अलावा डिब्रूगढ़, लखीमपुर, सोनितपुर और काजीरंगा में भी 19 अप्रैल को पहले चरण में मतदान होगा।

Advertisement

इसके साथ ही वह दीफू, सिलचर और करीमगंज में भाजपा उम्मीदवारों के नामांकन दाखिल करने के दौरान मौजूद रहेंगे जहां लोकसभा के लिए 26 अप्रैल को दूसरे चरण में मतदान होना है। राज्य की शेष चार सीट पर सात मई को मतदान होगा।

'मैं आज कहूं तो वे सभी आ जाएंगे' 

क्या और भी कांग्रेस नेता सत्ताधारी पार्टी में शामिल होने के लिए कतार में हैं? इस सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘अगर मैं आज कहूं तो वे सभी आ जाएंगे। मुस्लिम नेता 2032 तक आएंगे और यदि मैं बुलाऊंगा तो हिंदू नेता शामिल हो जाएंगे।" गौरतलब है कि पिछले कुछ हफ्तों में विपक्षी पार्टी के कई नेता और कार्यकर्ता भाजपा में शामिल हो चुके हैं। कांग्रेस की दो महिला विधायकों नंदिता दास और सिबामोनी बोरा के बारे में पूछे जाने पर (जो पार्टी उम्मीदवारों के लिए प्रचार कर रही हैं) शर्मा ने कहा कि यह उनकी पाला बदलने की इच्छा है, लेकिन सभी को बुलाने को लेकर ‘सीमा’ का हवाला दिया।

राज्य कांग्रेस प्रमुख भूपेन कुमार बोरा द्वारा कथित तौर पर उनके खिलाफ मानहानि का मामला दायर करने पर शर्मा ने कहा कि वह विपक्षी नेता के बारे में केवल अच्छी बातें कह रहे हैं। शर्मा ने कहा, ‘‘मामला तब दायर किया जाता है जब मानहानि होती है। लेकिन यहां मैंने कहा है कि वह मुख्यमंत्री हो सकते हैं। मैं उन्हें एक ऊंचा पद दे रहा हूं। यह मानहानिकारक कैसे हो सकता है?’’ उन्होंने अपनी राय एक बार फिर दोहराई कि बोरा अगले साल तक भाजपा में शामिल हो सकते हैं।

Advertisement

ये भी पढ़ें: असम: बारिश-तूफान से भारी तबाही, 2 बच्चों समेत चार लोगों की मौत; गृह मंत्री अमित शाह ने की CM से बात

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published April 1st, 2024 at 22:10 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo