Advertisement

Updated June 10th, 2024 at 23:57 IST

मोदी कैबिनेट में मंत्रालय का बंटवारा, नितिन गडकरी फिर बने सड़क परिवहन मंत्री; सामने आई पहली लिस्ट

Modi 3.O Portfolio: पोर्टफोलियो के अनुसार नितिन गडकरी सड़क परिवहन मंत्री बने रहेंगे। इसके साथ ही अजय टम्टा और हर्ष मल्होत्रा को राज्य मंत्री बनाया गया है।

Reported by: Kanak Kumari
 Former BJP Presidents shine in Modi 3.0
मोदी 3.0 में बंटा मंत्रालय। | Image:PTI/ANI
Advertisement

Modi 3.O Portfolio: मोदी 3.O कैबिनेट की पहली बैठक के बीच पोर्टफोलियो सामने आया है। मोदी सरकार के तीसरे कार्यकाल की शुरुआत के साथ ही मंत्रालयों का बंटवारा हो गया है। पोर्टफोलियो के अनुसार नितिन गडकरी सड़क परिवहन मंत्री बने रहेंगे। इसके साथ ही अजय टम्टा और हर्ष मल्होत्रा को राज्य मंत्री बनाया गया है। 

अमित शाह को गृह मंत्रालय और सहकारिता मंत्रालय मिला है। एस जयशंकर विदेश मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेंगे। निर्मला सीतारमण वित्त मंत्रालय और कॉर्पोरेट मामलों का मंत्रालय संभालेंगी। राजनाथ सिंह एक बार फिर से रक्षा मंत्रालय में बने रहेंगे। इसके साथ ही मनोहर लाल खट्टर को शहरी विकास और ऊर्जा मंत्रालय सौंपा गया है। जेपी नड्डा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री; और रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय संभालेंगे। अश्विनी वैष्णव को रेल, सूचना एवं प्रसारण और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की जिम्मेदारी मिली है। एचडी कुमार स्वामी भारी उद्योग मंत्री और इस्पात मंत्रालय संभालेंगे। शिवराज सिंह चौहान को कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री; तथा ग्रामीण विकास मंत्रालय मिला है।

Advertisement

पीयूष गोयल वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय संभालेंगे। चिराग पासवान को फूड प्रोसेसिंग मंत्रालय मिला। धर्मेंद्र प्रधान शिक्षा मंत्रालय और अश्विनी वैष्णव रेल मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेंगे। जीतन राम मांझी को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय मिला। ललन सिंह उर्फ राजीव रंजन सिंह को पंचायती राज मंत्री और मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय मिला।

 

राममोहन नायडू को नागरिक उड्डयन मंत्रालय, सर्बानंद सोनोवाल को पोर्ट, शिपिंग और जलमार्ग मंत्रालय दिया गया है। गजेंद्र सिंह शेखावत को संस्कृति और पर्यटन मंत्रालय मिला। अन्नपूर्णा देवी को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय मिला है। हरदीप सिंह पुरी के पास पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय बरकरार रहने की संभावना है। ज्योतिरादित्या सिंधिया को टेलीकॉम मिनिस्ट्री और पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास का जिम्मा मिला है।

तोखन साहू शहरी विकास मंत्रालय में राज्यमंत्री, श्रीपद नाइक ऊर्जा मंत्रालय में राज्यमंत्री, पीयूष गोयल को वाणिज्य मंत्रालय, शोभा करंदलाजे लघु उद्योग राज्यमंत्री,जीतनराम मांझी लघु उद्योग मंत्री बने। किरेन रिजिजू संसदीय कार्य और अल्पसंख्यक कार्य मंत्री बने। सीआर पाटिल को जलशक्ति मंत्रालय, सुरेश गोपी राज्यमंत्री संस्कृति और पर्यटन, भूपेंद्र यादव को पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेंगे। शांतनु ठाकुर पोर्ट शिपिंग राज्यमंत्री बनाए जाएंगे। रवनीत सिंह बिट्टू को अल्पसंख्यक मंत्रालय दिया गया। 

Advertisement

डॉ वीरेंद्र कुमार सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री बने। प्रह्लाद जोशी उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय मिला। जुएल उरांव जनजातीय मामलों के और गिरिराज सिंह टेक्सटाइल विभाग के मंत्री बने। डॉ मनसुख मांडविया श्रम एवं रोजगार मंत्री और युवा मामले एवं खेल के मंत्री हैं। जी किशन रेड्डी को कोयला और खान मंत्रालय मिला। सीआरपाटिल जलशक्ति मंत्री बने।

जितिन प्रसाद वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय में राज्य मंत्री; तथा इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय में राज्य मंत्री बने। इसके अलावा श्रीपद येसो नाइक विद्युत मंत्रालय में राज्य मंत्री बने।

Advertisement

स्वतंत्र प्रभार मंत्रियों को मिली ये जिम्मेदारी 

राव इंद्रजीत सिंह सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और योजना मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार); और संस्कृति मंत्रालय में राज्य मंत्री बने। डॉ जितेंद्र सिंह विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार); पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार); प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री; कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय में राज्य मंत्री; परमाणु ऊर्जा विभाग में राज्य मंत्री; और अंतरिक्ष विभाग में राज्य मंत्री बने। अर्जुन राम मेघवाल विधि एवं न्याय मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार); और संसदीय कार्य मंत्रालय में राज्य मंत्री बने। जाधव प्रतापराव गणपतराव आयुष मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार); और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय में राज्य मंत्री की जिम्मेदारी मिली। जयंत चौधरी को कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार); और शिक्षा मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया।

Advertisement

इसे भी पढ़ें: रियासी हमले में पाकिस्तानी कनेक्शन आया सामने! लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकी शामिल
 

Advertisement

Published June 10th, 2024 at 18:58 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

2 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
7 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo