Advertisement

Updated June 9th, 2024 at 16:31 IST

मंत्री बनते-बनते रह गए प्रफुल्ल पटेल, देवेंद्र फड़नवीस ने बताई कैबिनेट में जगह ना मिलने की वजह

Modi Cabinet: NCP को BJP की तरफ से स्वतंत्र प्रभार मंत्री पद की पेशकश की गई थी। देवेंद्र फड़नवीस ने बताया कि इसके लिए प्रफुल्ल पटेल का नाम भी फाइनल हो गया था।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Sagar Singh
Praful Patel
मंत्री बनते-बनते रह गए प्रफुल्ल पटेल | Image:PTI
Advertisement

Modi Cabinet: नरेंद्र मोदी तीसरी बार आज शाम को प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेंगे। नरेंद्र मोदी मंत्रिपरिषद में अपनी निवर्तमान सरकार के अधिकतर प्रमुख चेहरों को शामिल कर अपने नए कार्यकाल में निरंतरता का संदेश दे सकते हैं। इसी बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) को बीजेपी की तरफ से स्वतंत्र प्रभार मंत्री पद की पेशकश की गई थी। देवेंद्र फड़नवीस ने बताया कि इसके लिए प्रफुल्ल पटेल का नाम भी फाइनल हो गया था, लेकिन बात नहीं बन पाई।

देवेंद्र फड़नवीस ने प्रफुल्ल पटेल को कैबिनेट में शामिल ना करने की वजह भी बताई है। उन्होंने कहा कि वह पहले कैबिनेट मंत्री रह चुके है, इसलिए NCP नेताओं की राय है कि उन्हें राज्य मंत्री नहीं बनाया जाना चाहिए। इसलिए इस बार उन्हें केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया जा सका। लेकिन भविष्य में उन पर विचार किया जाएगा। 

Advertisement

मंत्रिपरिषद गठन से पहले चाय पर चर्चा

सूत्रों के मुताबिक, निवर्तमान सरकार में गृहमंत्री रहे अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और विदेश मंत्री एस. जयशंकर के अलावा पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान, अश्विनी वैष्णव, गजेन्द्र सिंह शेखावत और हरदीप सिंह पुरी के नई सरकार का हिस्सा होने की पूरी संभावना है। संभावित मंत्रियों के साथ नरेंद्र मोदी ने सुबह चाय पर मुलाकात के बाद उन्हें संबोधित भी किया। आधिकारिक तौर पर जारी किए गए एक वीडियो के अनुसार, करीब 65 मंत्रियों के शपथ लेने की संभावना है।

Advertisement

अनुराग ठाकुर शामिल नहीं

साल 2014 से यह एक परंपरा सी बन गई है कि मोदी मंत्रिपरिषद के गठन से पहले नेताओं को चाय पर बुलाते हैं और फिर कमाबेश वही चेहरे मंत्री पद की शपथ लेते हैं। हालांकि, संभावित मंत्रियों के बारे में अभी तक कोई आधिकारिक टिप्पणी नहीं की गई है। हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से एक बार फिर से जीत हासिल करने वाले निवर्तमान सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर उन नेताओं में शामिल नहीं दिखे, जिन्हें मोदी ने चाय पर बुलाया था। अमेठी से बड़ी हार का सामना करने वाली निवर्तमान मंत्री स्मृति ईरानी और चुनाव जीतने वाले पुरुषोत्तम रूपाला को भी नई सरकार में जगह मिलने की संभावना नहीं है।

Advertisement

मंत्रिपरिषद में नए चेहरे

केंद्रीय मंत्रिपरिषद में नये चेहरों में मनोहर लाल खट्टर, सी आर पाटिल, शिवराज सिंह चौहान, बंडी संजय कुमार और रवनीत सिंह बिट्टू शामिल हैं। सरकार में ज्यादातर नये चेहरे बीजेपी के सहयोगी दलों से हैं। तेलुगु देशम पार्टी के राम मोहन नायडू, चंद्रशेखर पेम्मासानी, जनता दल (यूनाइटेड) के राजीव रंजन सिंह ऊर्फ ललन सिंह और रामनाथ ठाकुर, शिवसेना के प्रतापराव जाधव के अलावा लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के चिराग पासवान, हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के जीतन राम मांझी, जनता दल (सेक्यूलर) के एच डी कुमारस्वामी, राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के जयंत चौधरी, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के रामदास आठवले और अपना दल (एस) अनुप्रिया पटेल मंत्रिपरिषद के सदस्य के रूप में शपथ ले सकते हैं।

Advertisement

सूत्रों के अनुसार, बीजेपी के ज्योतिरादित्य सिंधिया, भूपेंद्र यादव, प्रह्लाद जोशी, गिरिराज सिंह, अर्जुन राम मेघवाल, जितेंद्र सिंह, एसपीएस बघेल, अन्नपूर्णा देवी, वीरेंद्र कुमार, पंकज चौधरी, शोभा करंदलाजे, कृष्ण पाल गुर्जर और एल मुरुगन भी मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। बीजेपी के जी किशन रेड्डी, सुकांत मजूमदार, राव इंद्रजीत सिंह, नित्यानंद राय और भागीरथ चौधरी के भी नई सरकार का हिस्सा होने की संभावना है।

ये भी पढ़ें: Modi Cabinet 3.0: शपथ समारोह में शामिल होने पहुंचे नेपाल के PM पुष्प कमल, दिल्ली में हुआ स्वागत

Advertisement

Published June 9th, 2024 at 16:17 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

2 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
7 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo