Advertisement

Updated June 10th, 2024 at 23:18 IST

Modi 3.O Portfolio: पीयूष गोयल दूसरी बार बने वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री

Modi 3.O Portfolio: पीएम नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में नवगठित केंद्रीय मंत्रिमंडल में पीयूष गोयल एक बार फिर वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री का कार्यभार संभालेंगे।

Union Minister Piyush Goyal
Union Minister Piyush Goyal said that Uddhav Thackeray sacrificed Balasaheb's principle for his personal gains | Image:PTI/ File Photo
Advertisement

Modi 3.O Portfolio: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में नवगठित केंद्रीय मंत्रिमंडल में पीयूष गोयल एक बार फिर वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री का कार्यभार संभालेंगे। एक आधिकारिक बयान में सोमवार को यह जानकारी दी गई।

मुंबई उत्तर निर्वाचन क्षेत्र से 3.5 लाख मतों के अंतर से जीत दर्ज करने वाले गोयल ने नौ जून को कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली। वह पहली बार लोकसभा के सदस्य चुने गए हैं। वह इसके पहले 2010 से राज्यसभा के सदस्य थे।

Advertisement

वह भाजपा के पूर्व नेता वेद प्रकाश गोयल एवं चंद्रकांता गोयल के पुत्र हैं। उनके पिता अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली सरकार में जहाजरानी मंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष थे। वहीं उनकी मां मुंबई के माटुंगा से तीन बार विधायक रहीं। सितंबर, 2017 में पीयूष गोयल को कैबिनेट मंत्री के रूप में पदोन्नत किया था। उन्होंने भाजपा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष का पद संभाला है और 2014 के लोकसभा चुनावों में पार्टी के संचार अभियान का नेतृत्व भी किया था।

गोयल 2021 में राज्यसभा में सदन के नेता बने। उन्होंने वित्त से लेकर रेलवे, कोयला, कॉरपोरेट मामले, वाणिज्य, उद्योग और कपड़ा, उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण जैसे कई अहम मंत्रालयों की जिम्मेदारी संभाली है। पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट गोयल विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) की बैठकों में भारतीय किसानों और मछुआरों के हितों की रक्षा के लिए कड़ा रुख अपनाने के लिए जाने जाते हैं।

Advertisement

गोयल ऐसे समय में कार्यभार संभालेंगे जब वैश्विक आर्थिक अनिश्चितताओं और मांग में मंदी के कारण 2023-24 में भारत का व्यापारिक निर्यात 3.1 प्रतिशत घटकर 437 अरब अमेरिकी डॉलर पर आ गया। इसके साथ ही भारत में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) में भी 3.5 प्रतिशत की गिरावट आई है। पिछले वित्त वर्ष में देश में एफडीआई प्रवाह घटकर 44.42 अरब अमेरिकी डॉलर रह गया, जो वित्त वर्ष 2022-23 में 46 अरब डॉलर था।

ये भी पढ़ें- मोदी 3.O का पहला बड़ा फैसला, PM आवास योजना के तहत बनेंगे 3 करोड़ नए घर - Republic Bharat

Advertisement

Published June 10th, 2024 at 23:18 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

3 घंटे पहलेे
1 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo