Advertisement

Updated June 10th, 2024 at 23:35 IST

नड्डा की मोदी कैबिनेट में स्वास्थ्य मंत्री के रूप में वापसी, रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का भी दायित्व

जेपी नड्डा को मोदी सरकार में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का दायित्व सौंपा गया है।

JP Nadda Health Minister
जेपी नड्डा की मोदी कैबिनेट में स्वास्थ्य मंत्री के रूप में वापसी | Image:PTI
Advertisement

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में चार साल से अधिक समय तक पार्टी का नेतृत्व करने वाले जे पी नड्डा को सोमवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का कार्यभार सौंपा गया। नड्डा ने एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली थी। नड्डा ने मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार जताया।

उन्होंने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘‘माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का आभारी हूं कि उन्होंने मुझ पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का दायित्व सौंपा। मोदी सरकार का तीसरा कार्यकाल लोगों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। इसके अनुरूप, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय बेहतर स्वास्थ्य सेवा बुनियादी ढांचे और स्वास्थ्य सुविधाओं को सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव प्रयास करेगा। इसके अतिरिक्त, रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय प्रधानमंत्री मोदी जी के ‘विकसित भारत’ के दृष्टिकोण को साकार करने में हरसंभव योगदान देगा।’’

Advertisement

मनसुख मांडविया के पास था स्वास्थ्य मंत्रालय 

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में स्वास्थ्य मंत्रालय का प्रभार मनसुख मांडविया के पास था। वर्ष 2019 में भाजपा का कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने से पहले मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में भी नड्डा के पास यही विभाग था। अमित शाह के केंद्रीय गृह मंत्री बनने के बाद नड्डा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गए। नड्डा का भाजपा अध्यक्ष के रूप में कार्यकाल जनवरी में ही समाप्त हो गया था, लेकिन वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उन्हें छह महीने का सेवा विस्तार दिया गया था। अब उनका कार्यकाल जून में समाप्त होगा। 63 वर्षीय नड्डा हिमाचल प्रदेश के एक मात्र नेता हैं जिन्हें मौजूदा सरकार में जगह मिली है।

Advertisement

नड्डा ने मोदी के पहले कार्यकाल में नौ नवंबर, 2014 से लेकर 30 मई, 2019 तक स्वास्थ्य मंत्री के रूप में काम किया था। विधि स्नातक नड्डा ने अपनी राजनीतिक यात्रा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) से शुरू की थी। वह 1991 में भाजपा की युवा शाखा भारतीय जनता युवा मोर्चा (बीजेवाईएम) के अध्यक्ष बने।

उन्होंने भाजपा में विभिन्न प्रमुख पदों पर कार्य किया। उन्होंने बिहार से लेकर उत्तर प्रदेश, केरल, महाराष्ट्र और पंजाब तक कई राज्यों में पार्टी के चुनाव अभियान का नेतृत्व किया। वह अपने गृह राज्य हिमाचल प्रदेश में भाजपा की सरकार में मंत्री भी रहे। नड्डा 2012 में राज्यसभा के लिए चुने गए और 2014 में जब अमित शाह ने पार्टी अध्यक्ष का पद संभाला तो उन्हें भाजपा के संसदीय बोर्ड का सदस्य बनाया गया। माना जाता है कि नड्डा के मोदी के साथ मधुर संबंध हैं। वह लंबे समय तक हिमाचल प्रदेश में पार्टी मामलों के प्रभारी रहे।

Advertisement

ये भी पढ़ें: Modi 3.O Portfolio: चिराग पासवान नहीं, मोदी कैबिनेट के इस मिनिस्टर को मिला खेल मंत्रालय

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published June 10th, 2024 at 23:35 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
1 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
6 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo