Advertisement

Updated April 4th, 2024 at 14:44 IST

14X8 की कोठरी, सफाई के लिए झाड़ू और चाय की केतली भी...कैसे कट रहे तिहाड़ जेल में CM केजरीवाल के दिन?

Arvind Kejriwal: अरविंद केजरीवाल को जेल में जो किताबें उपलब्ध कराई गई हैं, उनमें हिंदू महाकाव्य रामायण और महाभारत और ‘हाऊ प्राइम मिनिस्टर्स डिसाइड’ शामिल हैं।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Dalchand Kumar
Delhi CM Arvind Kejriwal
तिहाड़ जेल नंबर 2 में अरविंद केजरीवाल | Image:PTI/File
Advertisement

Arvind Kejriwal News: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल तिहाड़ जेल की अपनी कोठरी में अपना ज्यादातर वक्त ध्यान लगाने, किताबें पढ़ने और योग करने में बिता रहे हैं। सूत्रों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। एशिया की सबसे बड़ी जेल में बंद देश के पहले मौजूदा मुख्यमंत्री केजरीवाल को तिहाड़ की जेल संख्या दो के जनरल वार्ड संख्या तीन में 14 फुट लंबी और आठ फुट चौड़ी कोठरी में रखा गया है। उन्हें आबकारी नीति मामले में एक अदालत द्वारा न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के बाद तिहाड़ जेल लाया गया था।

जेल के सूत्रों के अनुसार, केजरीवाल दिन में ज्यादातर समय किताबें पढ़ते हैं और योग करते हैं तथा हर दिन दो बार ध्यान लगाते हैं। एक आधिकारिक सूत्र ने कहा, ‘‘वह हर दिन सुबह और शाम करीब डेढ़ घंटे योग करते हैं और ध्यान लगाते हैं।’’ जेल में उन्हें जो किताबें उपलब्ध करायी गयी है उनमें हिंदू महाकाव्य रामायण और महाभारत और ‘हाऊ प्राइम मिनिस्टर्स डिसाइड’ शामिल हैं।

Advertisement

केजरीवाल के वार्ड में TV भी लगा, जिसमें 20 चैनल

सूत्र ने बताया, ‘‘उन्हें अक्सर अपनी कोठरी में कुर्सी पर बैठकर इन किताबों को पढ़ते और कुछ लिखते हुए देखा जाता है।’’ जेल के एक अधिकारी ने बताया कि केजरीवाल कैदियों के लिए बने पुस्तकालय में उपलब्ध किताबें भी पढ़ सकते हैं। लेकिन अभी उन्होंने कोई और किताब नहीं मांगी है। सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री को उनकी कोठरी में एक टीवी उपलब्ध कराया गया है जिसमें 20 चैनल हैं। उन्होंने कहा कि लेकिन वह टीवी देखना ज्यादा पसंद नहीं करते हैं।

Advertisement

यह भी पढ़ें: वायनाड में राहुल गांधी के रोड शो से कांग्रेस के झंडे ही 'गायब', डर किस बात का?

उन्होंने बताया कि अदालत के निर्देश पर केजरीवाल को एक मेज, एक कुर्सी और बिजली से चलने वाली एक केतली मुहैया करायी गयी है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री को अपनी कोठरी की सफाई के लिए एक झाड़ू, एक बाल्टी और कपड़े का एक टुकड़ा भी उपलब्ध कराया गया है जो जेल नियमावली के अनुसार सभी कैदियों को दिया जाता है। अधिकारियों ने बताया कि तिहाड़ जेल के अधिकारी कोठरी में लगाए गए दो सीसीटीवी कैमरों से 24 घंटे उन पर नजर रख सकते हैं। उनकी कोठरी के बाहर एक छोटी-सी जगह (लॉबी) है जहां वह चहलकदमी कर सकते हैं।

Advertisement

'केजरीवाल को अन्य कैदियों से मिलने की अनुमति नहीं'

सुरक्षा कारणों से केजरीवाल को अन्य कैदियों से मिलने की अनुमति नहीं है। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और तमिलनाडु विशेष पुलिस कर्मियों का एक त्वरित प्रतिक्रिया बल (क्यूआरटी) चौबीसों घंटे उनके वार्ड के बाहर तैनात है। एक सूत्र ने बताया, ‘‘जब भी वह अपने वकील से मिलने जाते हैं, जो कि रोज होता है, तो क्यूआरटी कर्मी उनकी सुरक्षा में तैनात रहते हैं। एक अधिकारी ने बताया कि अभी केजरीवाल को रोज चाय और घर से लाया गया भोजन दिया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘केजरीवाल ने अभी के लिए कुछ और नहीं मांगा है।’’

Advertisement

(PTI की इस खबर में सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया गया है)

Advertisement

Published April 4th, 2024 at 14:44 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
5 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo