Advertisement

Updated June 10th, 2024 at 23:14 IST

अमित मालवीय ने ‘अपमानजनक आरोपों’ को लेकर वकील को नोटिस भेजा, कांग्रेस ने जांच की मांग की

भाजपा के आईटी विभाग के प्रमुख अमित मालवीय ने उनके खिलाफ ‘‘झूठे और अपमानजनक आरोप’’ लगाने के लिए कोलकाता के एक वकील को कानूनी नोटिस भेजा।

 Amit Malviya
अमित मालवीय | Image:x
Advertisement

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) विभाग के प्रमुख अमित मालवीय ने उनके खिलाफ ‘‘झूठे और अपमानजनक आरोप’’ लगाने के लिए कोलकाता के एक वकील को कानूनी नोटिस भेजा है और ‘‘मानसिक प्रताड़ना’’ को लेकर 10 करोड़ रुपये की क्षतिपूर्ति तथा माफी की मांग की है।

इस बीच, कांग्रेस ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भाजपा अपने आईटी विभाग के प्रमुख के रूप में मालवीय को बर्खास्त करे क्योंकि उनके खिलाफ ‘‘यौन शोषण’’ के आरोप हैं।

Advertisement

मुख्य विपक्षी दल ने मालवीय के खिलाफ स्वतंत्र जांच की मांग की है।

संपर्क करने पर, मालवीय ने आरोपों पर कोई सीधी टिप्पणी नहीं की लेकिन आरोप लगाने वाले शांतनु सिन्हा को भेजे गए एक कानूनी नोटिस का उल्लेख किया।

Advertisement

नोटिस में, मालवीय के वकील ने कहा कि सिन्हा ने फेसबुक पर एक पोस्ट में उनके मुवक्किल की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाने के इरादे से ‘‘कुछ झूठे और अपमानजनक आरोप’’ लगाए।

सिन्हा ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘मेरा फेसबुक पोस्ट किसी को लक्ष्य बनाकर नहीं किया गया था। मैं प्रदेश भाजपा के उन नेताओं से सवाल करना चाहता था जो अपने दिल्ली के आकाओं को खुश करने के लिए संदिग्ध तरीकों का इस्तेमाल करते हैं ताकि वे यहां अपने पदों पर बने रह सकें। मेरे फेसबुक पोस्ट में कही गई बातों का गलत मतलब निकाला गया है।’’

Advertisement

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने जो भी कहा है, मैं उस पर कायम हूं। मैंने न तो अपना पोस्ट वापस लिया है और न ही किसी धमकी के सामने झुकने वाला हूं।’’

सिन्हा ने कहा, ‘‘मैंने कानूनी नोटिस का जवाब देने के लिए समय मांगा है। इस बीच अगर वे कोई दीवानी या आपराधिक कार्यवाही शुरू करते हैं, तो मैं उसके अनुसार जवाब दूंगा।’’

Advertisement

अपने वकील के माध्यम से कानूनी नोटिस में मालवीय ने सिन्हा से सार्वजनिक रूप से माफी मांगने और ‘‘अपमानजनक बयान’’ वापस लेने की मांग की है।

सिन्हा को भेजे कानूनी नोटिस में कहा गया है, ‘‘मैं आपसे अपने मुवक्किल की, आपके सात जून 2024 के फेसबुक पोस्ट से मानसिक प्रताड़ना/पीड़ा होने और प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचने के लिए दीवानी क्षतिपूर्ति के रूप में 10 करोड़ रुपये अदा करने की मांग करता हूं...। हम आपके खिलाफ उपयुक्त दीवानी कार्यवाही शुरू करने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं, जिसमें सभी संपत्तियों की कुर्की की मांग करना भी शामिल है।’’

Advertisement

भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने मालवीय के खिलाफ आरोपों को ‘‘निराधार’’ और राजनीति से प्रेरित बताया। मजूमदार ने संकेत दिया कि पूरा विवाद ‘‘तृणमूल कांग्रेस का कृत्य’’ हो सकता है। हालांकि, तृणमूल ने मजूमदार द्वारा लगाए गए आरोपों पर प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया।

Advertisement

Published June 10th, 2024 at 23:14 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
1 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
6 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo