Updated May 16th, 2024 at 21:28 IST

Noida से बड़ी खबर, पुलिस हिरासत में युवक ने लगाई फांसी; पूरी पुलिस चौकी निलंबित

Noida News: पुलिस उपायुक्त ने कहा कि चिकित्सकों का एक पैनल बनाकर शव का पोस्टमार्टम करवाया गया है।

Representational | Image:PTI/ Representational
Advertisement

Noida News:  जनपद गौतमबुद्ध नगर में बिसरख थानाक्षेत्र की चिपियाना बुजुर्ग पुलिस चौकी में बृहस्पतिवार सुबह हिरासत में एक युवक ने कथित तौर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस मामले में परिजनों द्वारा गंभीर आरोप लगाए जाने के बाद पुलिस आयुक्त ने पुलिस चौकी में तैनात सभी पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है।

पुलिस उपायुक्त (जोन द्वितीय) सुनिती ने बताया कि पुलिस आयुक्त लक्ष्मी सिंह के आदेश पर पुलिसकर्मियों के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई के साथ-साथ घटना की उच्च स्तरीय जांच के लिए एक अधिकारी को नियुक्त किया गया है। उन्होंने बताया कि मामले में थाना प्रभारी और सहायक पुलिस आयुक्त की भूमिका की जांच की जा रही है।

Advertisement

शव का पोस्टमार्टम करवाया गया

पुलिस उपायुक्त ने कहा कि चिकित्सकों का एक पैनल बनाकर शव का पोस्टमार्टम करवाया गया है। उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी करवाई गई है।

Advertisement

सुनिती ने बताया कि चिपियाना गांव के पास स्थित एक कंपनी में काम करने वाली एक महिला ने अपने सहकर्मी योगेश (22) पर बलात्कार का आरोप लगाया था और उसने इस संबंध में पुलिस अधीक्षक (लखनऊ) से शिकायत की थी।

उन्होंने बताया कि जांच दल लखनऊ से नोएडा आया और इस जांच के क्रम में पुलिस ने बृहस्पतिवार सुबह को योगेश को पूछताछ के लिए चौकी पर बुलाया।

Advertisement

महिला कांस्टेबल निगरानी पर थी

उन्होंने कहा कि इसी बीच पुलिस को चिपियाना में एक युवक की खुदकुशी की सूचना मिली। इस पर योगेश को चौकी लेकर आए पुलिसकर्मी उसे बाहर कुर्सी पर बैठाकर घटनास्थल रवाना हो गए। सुनिती ने कहा कि उस वक्त चौकी पर एक महिला कांस्टेबल निगरानी पर थी।

Advertisement

पुलिस उपायुक्त ने बताया कि इसी दौरान योगेश ने चौकी के अंदर जाकर कमरे का दरवाजा बंद कर लिया तथा पंखे से फंदा लगाकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। योगेश को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

वहीं, घटना के बाद मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिस की पिटाई के डर से योगेश ने आत्महत्या की है। पुलिस हिरासत में मौत की सूचना पर काफी संख्या में लोग सेक्टर-94 स्थित शवगृह जमा हो गए तथा उन्होंने पुलिस के विरोध में नारेबाजी की। पुलिस अधिकारियों ने समझा-बुझाकर लोगों को शांत किया।

Advertisement

मृतक के भाई ने कहा कि योगेश पर झूठा आरोप लगाने वाली महिला उनकी मौत की जिम्मेदार है। खबर लिखे जाने तक इस मामले में किसी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई थी। हालांकि पुलिस उपायुक्त ने कहा कि मृतक के परिजन से तहरीर मिलने पर तुरंत मुकदमा दर्ज किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पूर्व भी थाना सेक्टर-39 क्षेत्र में एक व्यक्ति की हिरासत में मौत हो गई थी।

ये भी पढ़ेंः 'केजरीवाल ने रचा पूरा खेल...',स्वाति के पूर्व पति ने बदसलूकी को बताया 'चीरहरण'; कहा- हाथ तोड़ देता

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published May 16th, 2024 at 21:23 IST

Whatsapp logo