Advertisement

Updated June 11th, 2024 at 23:23 IST

'सिस्टम को चैलेंज करो, सवाल करो, दबाव बनाओ...' NEET Scam के खिलाफ रिपब्लिक चलाएगा कैंपेन

Republic Campaign Against NEET Scam: नीट स्कैम के खिलाफ रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क 24 घंटे के लिए कैंपेन चलाने जा रहा है।

Reported by: Kanak Kumari
Advertisement

Republic Campaign Against NEET Scam: NEET Scam के खिलाफ रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क कैंपेन चलाने जा रहा है। दरअसल, नीट स्कैम को लेकर फिजिक्स वाला के फाउंडर अलख पांडे ने बताया कि स्टूडेंट्स कितने परेशान है, उनका भविष्य दांव पर है। इसके बाद रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर इन चीफ ने स्कैम के खिलाफ मुहिम शुरू करने का ऐलान किया।

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी ने कहा, “इस देश में कुछ बनना बहुत ही मेहनत का काम है। पहले फ्रॉड करवाते हैं और ऊपर से आप (NTA) एक डिक्टेटर की तरह बर्ताव कर रहे हैं। आप इस देश के सभी बड़े एग्जाम कंडक्ट करते हैं। मैं एक कैंपेन शुरू कर रहा हूं। प्लीज अपनी प्रतिक्रिया रिपब्लिक के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भेजें।”

Advertisement

उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के दो घंटे के अंदर मैं republicworld.com पर एक पोल शुरू करने जा रहे हैं और आपके कमेंट्स लेंगे। मैं 24 घंटे के अंदर आपकी प्रतिक्रिया लेकर व्यक्तिगत तौर पर शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को सौंपूंगा। इसके अलावा मैं देश के टॉप डॉक्टरों, कोचिंग सेंटर से बात करूंगा। ये कैंपेन 24 घंटे तक चलेगा। 

'स्टूडेंट लाइफ को मुश्किल बना रहा NTA'

फिजिक्स वाला ने बताया कि ये एक नीट स्कैम है। रैंक में गड़बड़ी की गई है। प्रक्टिकल तौर पर देखा जाए तो 67 स्टूडेट्स का रैंक 1 आना और 720 आना असंभव है। हालांकि, NTA ने इसपर अपनी सफाई दे दी है। 8 स्टूडेंट्स के स्कोर भी समान हैं। NTA ने इसपर भी अपनी सफाई दी है कि ये कैसे हुआ, जो कि इतिहास में कभी नहीं हुआ है। क्या ऐसा कोई नियम है जिसके तहत ग्रेस मार्क्स दिया जा सकता है? NTA की बुकलेट में ऐसा कोई नियम नहीं है। अलख पांडे ने कहा कि इस तरह से स्टूडेंट लाइफ के साथ-साथ एडमिशन की प्रक्रिया को भी मुश्किल बनाया जा रहा है।

क्या काउंसिलिंग पर लगनी चाहिए रोक?

रिपब्लिक के एडिटर इन चीफ ने जब ये सवाल किया कि क्या कि क्या नीट रिजल्ट के बाद काउंसिलिंग पर रोक लगनी चाहिए? इसपर फिजिक्स वाला अलख पांडे ने कहा कि हां बिल्कुल, काउंसिलिंग पर रोक लगनी चाहिए। मैंने इसी को लेकर SC में याचिका भी दायर की है। हमारा देश इस चीज की सामर्थ्य रखता है कि इस जांच को 7 दिनों में पूरा किया जा सकता है। और स्टूडेंट्स का भविष्य अगर दांव पर लग रहा है तो 7 दिनों के लिए काउंसिलिंग को रोका जा सकता है। 

इसे भी पढ़ें: NEET रिजल्ट में उलटफेर, क्या कोचिंग सेंटर भी हैं किसी 'Scam' का हिस्सा? अलख पांडे ने किया बड़ा दावा

Advertisement

Published June 11th, 2024 at 23:22 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
1 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
6 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo