Advertisement

Updated June 7th, 2024 at 16:36 IST

Modi 3.0: सेंट्रल हॉल में जब नरेंद्र मोदी ने CM योगी की थपथपाई पीठ, देखते रह गए नीतीश कुमार

NDA Meeting: नरेंद्र मोदी को एनडीए संसदीय दल का नेता चुना गया। नीतीश कुमार, चंद्रबाबू नायडू जैसे एनडीए के सहयोगी दलों के मुखिया मोदी के समर्थन करने आए।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Dalchand Kumar
narendra modi, yogi adityanath and nitish kumar
नरेंद्र मोदी ने योगी के कंधे पर हाथ रखा। | Image:Video Grab
Advertisement

Narendra Modi and CM Yogi Adityanath: नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में तीसरी बार एनडीए को सरकार बनाने का मौका मिला है। 18वीं लोकसभा के लिए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी जरूर अकेले बहुमत हासिल नहीं कर पाई, लेकिन एनडीए को पूर्ण बहुमत हासिल हुआ है। चुनावों में ज्यादा नुकसान बीजेपी को उत्तर प्रदेश में हुआ, जहां सरकार बीजेपी की है और नेतृत्व योगी आदित्यनाथ कर रहे हैं। खराब नतीजों के बाद कई तरह से सवाल और कयास सियासी बाजारों में घूम रहे थे। खैर, इन सवालों का जवाब नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ की तस्वीर ने दे दिया है।

नरेंद्र मोदी को शुक्रवार को एनडीए संसदीय दल का नेता चुना गया। नीतीश कुमार, चंद्रबाबू नायडू जैसे एनडीए के सहयोगी दलों के मुखिया मोदी के समर्थन करने आए। पुराने संसद भवन में हुई NDA की बैठक में ही ध्वनिमत से मोदी को नेता चुना गया। इसी दौरान योगी आदित्यनाथ और मोदी की एक छोटी सी मुलाकात हुई, जिसने एक बड़ा संदेश दिया। जब मोदी नेता चुने गए तो एनडीए के सांसद, राज्यों के मुख्यमंत्री और पार्टी के दिग्गज नेता मोदी को बधाई दे रहे थे। हाथों में गुलदस्ता लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी आए। जब योगी सामने खड़े हुए तो नरेंद्र मोदी ने उनकी पीठ थपथपाई। इसी स्थिति को पीछे खड़े जदयू के नेता नीतीश कुमार बड़े गौर से देख रहे थे। बाद में योगी का वहां से जाना हुआ तो नीतीश कुमार भी आगे बढ़ गए।

Advertisement

मोदी NDA संसदीय दल के नेता चुने गए

एनडीए की बैठक में राजनाथ सिंह ने मोदी को नेता चुनने के लिए नाम का प्रस्ताव को रखा था। राजनाथ सिंह ने कहा कि आज हम बीजेपी के संसदीय दल के नेता और NDA संसदीय दल के नेता और लोकसभा के नेता के चयन के लिए यहां एकत्रित हुए हैं। मैं समझता हूं कि मोदी जी का नाम इन सारे पदों के लिए सबसे योग्य और उपयुक्त है।

Advertisement

पहले अमित शाह ने इस प्रस्ताव का अनुमोदन और समर्थन किया। उसके बाद बारी-बारी से NDA में सहयोगी दलों के प्रमुखों ने प्रस्ताव का अनुमोदन किया। बाद में सर्वसम्मति से मोदी को नेता चुनने के प्रस्ताव को पास किया गया। पुराने संसद भवन के सेंट्रल हॉल में आयोजित  बैठक में मोदी को नेता चुनने का प्रस्ताव शुक्रवार को ध्वनिमत से पास हुआ।

यह भी पढ़ें: सेंट्रल हॉल में गजब का नजारा, भौचक्के रह गए नड्डा जब नीतीश झुके और मोदी के छूने लगे पैर फिर...

Advertisement

Published June 7th, 2024 at 15:47 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

2 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
7 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo