Advertisement

Updated May 14th, 2024 at 09:49 IST

मुंबई में होर्डिंग गिरने से हुई मौत का आंकड़ा बढ़ा, 14 लोगों की मौत; 43 घायलों का इलाज जारी

मुंबई में होर्डिंग गिरने से हुई मौत का आंकड़ा अब बढ़ गया है। घटना में करीब 14 लोगों की मौत हो गई। वहीं 43 घायल लोगों का इलाज जारी है।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Kanak Kumari
Mumbai rains visuals going viral on social media
मुंबई में होर्डिंग गिरने से 14 मौत | Image:X
Advertisement

मुंबई में मौसम ने अचानक से करवट बदली और भयंकर आंधी तूफान आने के बाद बारिश भी हुई। वैसे तो गर्मी से थोड़ी राहत जरुर मिली, लेकिन घटना में जानमाल का भी काफी नुकसान हुआ। मुंबई में होर्डिंग गिरने से हुई मौत का आंकड़ा अब बढ़ गया है। घटना में करीब 14 लोगों की मौत हो गई। वहीं 43 घायल लोगों का इलाज जारी है।

बता दें, मुंबई के घाटकोपर इलाके में धूल भरी आंधी और बारिश के दौरान एक पेट्रोल पंप पर 100 फुट लंबा अवैध होर्डिंग गिर गया। वहीं वडाला इलाके में भी तेज हवाओं के दौरान निर्माणाधीन ‘मेटल पार्किंग टावर’ सड़क पर गिर गया। अचनाक आए तूफान और बारिश में कई लोगों की मौत हो गई और 70 से अधिक लोग घायल हो गए।

Advertisement

होर्डिंग के नीचे दबे थे 60 से ज्यादा लोग

निकाय अधिकारियों के अनुसार, घाटकोपर में गिरा यह होर्डिंग अवैध था। एक सीनियर पुलिस ऑफिसर ने कहा, “होर्डिंग के नीचे से अब तक 78 लोगों को निकाला गया है, जिनमें से आठ को मृत घोषित कर दिया गया है और 70 अन्य घायल हैं। उन्हें विभिन्न अस्पतालों में ले जाया गया है।” उन्होंने बताया कि तलाश और बचाव अभियान जारी है।

Advertisement

राष्ट्रपति मुर्मू ने जताया दुख

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने होर्डिंग गिरने के कारण लोगों की मौत पर दुख जताया। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा, “मुंबई के घाटकोपर क्षेत्र में होर्डिंग गिरने से अनेक लोगों के हताहत होने का समाचार अत्यंत दुखद है। मैं शोक संतप्त परिवारजनों के प्रति गहन संवेदना व्यक्त करती हूं। मैं घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करती हूं तथा राहत और बचाव कार्य की सफलता की कामना करती हूं।”

Advertisement

इसे भी पढ़ें: PM Modi Nomination: काशी में पीएम का नामांकन आज, गंगा स्नान के लिए पहुंचेंगे दशाश्वमेध घाट
 

 

Advertisement

Published May 14th, 2024 at 07:32 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo