Advertisement

Updated April 1st, 2024 at 13:45 IST

उज्जैन में श्रद्धालुओं के साथ मारपीट मामले में एक्शन, पुलिस ने अवैध दुकानों पर चलाया बुलडोजर

मध्य प्रदेश के उज्जैन में श्रद्धालुओं के साथ मारपीट के मामले में पुलिस ने एक्शन लेते हुए अवैध दुकानों पर बुलडोजर चला दिया है।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Kanak Kumari
Ujjain illegal shops removed
उज्जैन में अवैध दुकानें हटाई गई | Image:Screen Grab
Advertisement

मध्यप्रदेश के उज्जैन में काल भैरव मंदिर के बाहर एक विक्रेता ने रविवार को श्रद्धालुओं पर अपनी दुकान से प्रसाद खरीदने का दबाव बनाया और उनके साथ बहस के दौरान कथित तौर पर मारपीट की। एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी। बतकाया जा रहा है कि महाराष्ट्र से उज्जैन बाबा काल भैरव के दर्शन करने पहुंचे सुप्रीम कोर्ट के वकील और परिवार के साथ काल भैरव मंदिर के बाहर ये मारपीट हुई है। कुल 09 श्रद्धालुओं में से एक श्रद्धालु गंभीर घायल हो गया, जिसके सिर पर लोहे की रोड से हमला किया गया।

घायल सुप्रीम कोर्ट के वकील अमरदीप उज्जैन के जिला अस्पताल में भर्ती है जिनके परिवार की सदस्य शेजल भट्टाचार्य ने कहा हम मुम्बई बोरीवली वेस्ट से आये है बाबा महाकाल के दर्शन के बाद बाबा कालभैरव मंदिर के दर्शन को गए थे जहां मंदिर के बाहर फुल प्रसादी बेचने वालों ने मारपीट कर दी , जहां हमने पार्किंग में गाड़ी लगाई वहां फूलप्रसादी बेचने वालो ने जबर्दस्ती हमे फूल प्रसादी देने की कोशिश की, कहा यहां गाड़ी लगाई तो यही से प्रसाद लो , जब हमने प्रसाद नहीं लिया तो जबरदस्ती गाड़ी में प्रसाद फेंक दिया और 200रु की डिमांड करने लगे हमारे ड्राइवर कमल कुमार को भी डराया धमकाया। हमारी गाड़ी को 60 से 70 लोगों ने घेर लिया और हम पर हमला कर दिया।

Advertisement

करीब 40 दुकानों को इलाके से हटाया गया

परिजन ने बताया हम सभी एक ही परिवार के है और सब एडवोकेट है डायल हंड्रेड पर भी कॉल किया लेकिन तत्काल कोई मदद नहीं मिल पाई पास में खड़े एक पुलिसकर्मी ने मदद की और उन लोगों के बीच से बाहर निकाला और फिर अस्पताल पहुंचाया गया। भैरवगढ़ थाने पर शिकायत दर्ज करवाने कुछ लोग गए हैं। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और प्रशासन ने अतिक्रमित भूमि पर बनी 11 दुकानों समेत 40 दुकानों को इलाके से हटा दिया है। 

Advertisement

एसपी प्रदीप शर्मा ने श्रद्धालूओं के साथ हुई मारपीट मामले में कहा आरोपी राजा भाटी को चिन्हित किया है। आरोपी के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया है भैरवगढ़ थाने में वही कलेक्टर साहब के संज्ञान में मामला है आरोपी की दुकानों को चिन्हित करवाया जा रहा है अवैध दुकानों को तोड़ा जा रहा है। पुलिस अधीक्षक ने बताया, ‘‘उसने (विक्रेता) श्रद्धालुओं पर उसकी दुकान से प्रसाद खरीदने का दबाव बनाया क्योंकि उनका (श्रद्धालुओं) वाहन उसकी दुकान के सामने खड़ा था। इसको लेकर विवाद हुआ और तीन भक्त एवं भाटी घायल हो गए।’’

पार्किंग की होगी व्यवस्था

भैरवगढ़ पुलिस थाना प्रभारी जगदीश गोयल ने कहा कि मुंबई निवासी ऋषि भट्टाचार्य की शिकायत पर अश्लीलता, जानबूझकर चोट पहुंचाने, आपराधिक धमकी और अन्य अपराधों से संबधित भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई। बाद में जिला प्रशासन और पुलिस ने काल भैरव मंदिर क्षेत्र से 40 दुकानें हटवा दीं। भूमि का उपयोग वाहनों के लिए बेहतर पार्किंग व्यवस्था प्रदान करने के लिए किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी RBI के 90वें सालगिरह समारोह में हुए शामिल, बोले- 10 साल में जो हुआ, वो तो सिर्फ ट्रेलर है...

Advertisement

Published April 1st, 2024 at 13:24 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo