Advertisement

Updated April 1st, 2024 at 12:01 IST

1 अप्रैल से बदल गए कई नियम, EPFO, LPG सिलेंडर से लेकर SBI क्रेडिट कार्ड तक देश में लागू 5 बड़े बदलाव

1 अप्रैल से कई नियम बदल गए हैं। EPFO, LPG सिलेंडर से लेकर SBI क्रेडिट कार्ड तक देश में लागू हुए 5 बड़े बदलाव। आपकी जेब पर डालेंगे प्रभाव।

Reported by: Nidhi Mudgill
Many rules changed from April 1
देश में 1 अप्रैल से बदल गए कई नियम | Image:Republic/ PTI/ Shutterstock
Advertisement

Rules Changed from April 1: नया फाइनेंशियल ईयर आम जनता के लिए महंगाई से राहत लेकर आया है। क्योंकि अप्रैल की पहली तारीख देश में कई बदलाव लेकर आती है। वहीं यह सभी बदलाव सीधे आम आदमी पर असर डालने वाले हैं। एक अप्रैल को एक तरफ एलपीजी सिलेंडर (LPG Cylinder) सस्ता हुआ है तो दूसरी ओर EPFO के भी नए नियम आए हैं, अब आपको नौकरी बदलने के बाद EPFO ऑफिस के धक्के नहीं खाने पड़ेंगे वहीं, SBI क्रेडिट कार्ड यूजर्स के लिए भी कुछ बदलाव किए गए हैं। इसके अलावा भी एक अप्रैल से कुछ बदलाव किए गए हैं जो सीधे तौर पर आपको प्रभावित करेंगे।

1. LPG सिलेंडर को लेकर गुड न्यूज 

एलपीजी सिलेंडर (LPG Cylinder) इस्तेमाल करने वालों के लिए भी गुड न्यूज है। जी हां 19 किलो वाले एलपीजी सिलेंडर (LPG Cylinder) के दाम राजधानी दिल्ली में 30.50 रुपये तक घट गए हैं, वहीं मुंबई में 31.50 रुपये , चेन्नई में 30.50 रुपये और कोलकाता में 32 रुपये तक एलपीजी सिलेंडर के दाम घट गए हैं। लेकिन घरों में इस्तेमाल होने वाले 14 किलो के एलपीजी सिलेंडर (LPG Cylinder) में कोई बदलाव नहीं किया गया है। आम उपभोक्ताओं के लिए दिल्ली में इसकी कीमत 803 रुपये बनी हुई है जबकि उज्ज्वला योजना के तहत लाभ लेने वालों के लिए इसकी कीमत 603 रुपये है। 

2. SBI क्रेडिट कार्ड यूजर्स के लिए बदलाव

इस महीने से एक बड़ा बदलाव भारतीय स्टेट बैंक के एसबीआई क्रेडिट कार्ड यूजर के लिए भी होने वाला है। एसबीआई क्रेडिट कार्ड (SBI Credit Card) यूजर्स के लिए कुछ नियमों में बदलाव का फैसला किया गया है।एसबीआई कार्ड ने घोषणा की है कि 1 अप्रैल, 2024 से कुछ क्रेडिट कार्ड के लिए किराया भुगतान लेनदेन पर रिवार्ड प्‍वाइंट का कलेक्‍शन बंद कर दिया जाएगा। इसमें AURUM, SBI कार्ड एलीट, SBI कार्ड एलीट एडवांटेज, SBI कार्ड पल्स और सिंपल क्लिक SBI कार्ड शामिल हैं।

3. EPFO के नए नियम भी पढ़ें

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने आपके फंड बैलेंस के लिए ऑटोमेटिक ट्रांसफर सिस्टम लागू किया है। जब आप कोई नई नौकरी शुरू करते हैं तो अब आपको मैन्युअल फंड ट्रांसफर के लिए रिक्वेस्ट नहीं करना पड़ेगा। ईपीएफओ ऑटोमेटिकली आपके पीएफ बैलेंस को आपके नए नियोक्ता के खाते में जमा कर देगा।

4. आयकर कानून प्रावधान से फायदा

अगर आप प्राइवेट नौकरी करते हैं तो आप लीव इनकैशमेंट के रूप में तीन लाख के बजाय 25 लाख रुपये तक पर कर छूट का लाभ ले सकते हैं। आयकर कानून की धारा-10(10AA) में प्रावधान किया गया है। यानी आयकर अधिनियम की धारा 10(10AA) के आधार पर कर गणना के साथ, निजी क्षेत्र के कर्मचारियों द्वारा प्राप्त अवकाश नकदीकरण आंशिक रूप से छूट और कर योग्य हैं।

यह भी पढ़ें : पोते के जन्म की इतनी खुशी, दादा ने किन्नरों को दिया 100 गज का प्लॉट

Advertisement

5. सालाना 7.50 लाख तक आय वालों को राहत

2024 और 2025 की नई कर व्यवस्था को अगर आप चूनते हैं तो आपको 50 हजार रुपये के स्टैंडर्ड डिडक्शन का फायदा मिल सकता है। यानी अगर आपकी सालाना आय 7.50 लाख तक है तो आप कर मुक्त हो जाएंगे। 50 हजार रुपये की यह छूट पहले पुराने टैक्स स्लैब में ही मिलती थी। लेकिन अब आप इसका इस्तेमाल करके 50 हजार रुपये के स्टैंडर्ड डिडक्शन का लाभ ले सकते हैं।

Advertisement

यह भी पढ़ें : अरविंद केजरीवाल की ED रिमांड फिर बढ़ेगी या जाएंगे जेल, कोर्ट में आज पेशी

Advertisement

(Note: यह एक ब्रेकिंग स्टोरी है। अधिक जानकारी के साथ अपडेट हो रही है)

Published April 1st, 2024 at 11:46 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo