Advertisement

Updated April 4th, 2024 at 16:25 IST

राजस्थान : घर से मतदान के लिए 76,636 मतदाताओं ने पंजीकरण करवाया

आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर राजस्थान में 76,636 मतदाताओं ने 'होम वोटिंग' यानी घर से मतदान करने के लिए पंजीकरण करवाया है।

Edited by: Digital Desk
Lok Sabha elections 2024:voting from home
घर से मतदान के लिए रजिस्ट्रेशन | Image:PTI
Advertisement

आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर राजस्थान में 76,636 मतदाताओं ने 'होम वोटिंग' यानी घर से मतदान करने के लिए पंजीकरण करवाया है, जिनमें 58,954 बुजुर्ग शामिल हैं। निर्वाचन आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी।

अधिकारी के मुताबिक, पहले चरण में जिन लोकसभा सीटों पर मतदान होना है, वहां घर से मतदान की प्रक्रिया शुक्रवार से शुरू हो जाएगी। अधिकारी के अनुसार, राज्य की सभी 25 लोकसभा सीट पर चुनाव के लिए 76,636 पात्र मतदाताओं ने घर से मतदान करने का विकल्प चुना है। इसमें 58,954 बुजुर्ग और 17,682 दिव्यांग मतदाता शामिल हैं।

Advertisement

मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि घर से मतदान की सुविधा विकल्प के रूप में है। उन्होंने बताया कि लोकसभा चुनाव के लिए घर से मतदान की सुविधा ऐसे मतदाताओं को मिलती है, जो 85 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों हों या 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांगता श्रेणी के विशेष योग्यजन हों। अधिकारी ने बताया कि घर से मतदान के तहत पहले चरण के लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में पांच अप्रैल से मतदान की प्रक्रिया शुरू होगी और 14 अप्रैल तक चलेगी।

उन्होंने बताया कि किसी कारण से मतदाता के होम वोटिंग के लिए अनुपस्थित या वंचित रह जाने पर दूसरा चरण 15 से 16 अप्रैल के बीच होगा। घर से मतदान के लिए 12 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में चुनाव अधिकारी द्वारा 36,558 पात्र मतदाताओं के फॉर्म स्वीकृत किए गए हैं, इनमें 27,524 वरिष्ठ नागरिक और 9,306 दिव्यांग शामिल हैं।

Advertisement

गुप्ता ने बताया कि दूसरे चरण में मतदान वाले 13 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में घर से मतदान के लिए पंजीकरण का काम पूरा हो गया है। इन क्षेत्रों में कुल 40 हजार से अधिक पात्र मतदाताओं ने पंजीकरण कराया है। इसमें 31,511 वरिष्ठ नागरिक और 8,567 दिव्यांग मतदाता शामिल हैं। अधिकारी ने बताया कि घर से मतदान का विकल्प चुनने वाले मतदाताओं की सूची सभी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को आठ अप्रैल तक उपलब्ध कराई जाएगी।

उन्होंने बताया कि विशेष मतदान दल गठित कर उनके प्रशिक्षण की सभी प्रक्रिया 13 अप्रैल तक पूरी कर ली जाएगी और घर से मतदान के लिए मतदान प्रक्रिया 14 अप्रैल से शुरू होकर 21 अप्रैल तक चलेगी। किसी कारण से मतदाता के होम वोटिंग के लिए अनुपस्थित या वंचित रह जाने पर दूसरा दौर 22 से 23 अप्रैल के बीच होगा।

Advertisement

यह भी पढ़ें: 'मेरे त्यागपत्र के बाद किया निष्कासन इतनी...', कांग्रेस पर संजय निरुपम

Advertisement

Published April 4th, 2024 at 16:25 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo