Advertisement

Updated March 5th, 2024 at 10:18 IST

जीप सफारी, हाथी की सवारी... असम के काजीरंगा नेशनल पार्क में रात बिताएंगे PM मोदी; ये है पूरा शेड्यूल

असम के सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने प्रधानमंत्री के असम प्रवास का कार्यक्रम शेयर किया। उन्होंने ये भी बताया कि दौरा ऐतिहासिक होगा!

Reported by: Kiran Rai
himanta biswa sarma with pm modi
हिमंता बिस्वा सरमा संग पीएम मोदी | Image:X
Advertisement

Himanata Biswa Sarma News:  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आगामी 8 और 9 मार्च को असम में होंगे। सीएम हिमंता सरमा ने मीडिया से बातचीत में बताया ये टूर खास होगा। क्यों? क्योंकि ऐसा पहली बार होगा जब देश का पीएम काजीरंगा की सैर करेंगे। यहां का मुख्य आकर्षण जीप सफारी और हाथी की सवारी है पीएम के कार्यक्रम में ये भी शामिल है।

वो 8 मार्च को रात्रि विश्राम भी वहीं गेस्ट हाउस में करेंगे फिर अगले दिन 9 मार्च को ही 125 फीट ऊंची कांस्य मूर्ति का अनावरण भी करेंगे। ये मूर्ति असम के उस महान सेनापति की होगी जिसने मुगलों से लोहा लिया था। पीएम विजिट को देखते हुए 7 से 9 मार्च के बीच काजीरंगा नेशनल पार्क और टाइगर रिजर्व आम लोगों के लिए बंद रहेगा।

Advertisement

ऐतिहासिक दौरा!

पीएम मोदी के असम दौरे पर सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा, ''वह 8 मार्च की रात काजीरंगा में आराम करेंगे...9 मार्च की सुबह वह पीएम के तौर पर पहली बार काजीरंगा नेशनल पार्क का दौरा करेंगे...अगले दिन जोरहाट में विश्व प्रसिद्ध अहोम जनरल लाचित बरफुकन की 125 फीट ऊंची कांस्य की मूर्ति का अनावरण करेंगे। सरमा के मुताबिक ये भी पहली बार है जब कोई पीएम काजीरंगा का दौरा कर रहे हैं। दावा किया कि उनके दौरे से काजीरंगा का रुतबा और भी बढ़ेगा और पर्यटन भी बढ़ेगा। वह जोरहाट में एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करेंगे और फिर पश्चिम बंगाल के लिए रवाना हो जाएंगे।

जनरल लाचित बरफुकन कौन?

जनरल लचित बोरफुकन (General Lachit Borphukan) अहोम साम्राज्य के एक सेनापति थे। उन्हें 1671 में सरायघाट की लड़ाई में बहादुरी से नेतृत्व करने के लिए पहचाना जाता है। उनके मुगल साम्राज्य के शाही विस्तार को सफलता पूर्वक रोक दिया था। आज भी उन्हें उनकी बहादुरी और कठिन परिस्थितियों का सामना करने में नेतृत्व के लिए याद किया जाता है। अहोम साम्राज्य पर कब्जा करने के लिए रामसिंह प्रथम की कमान के तहत मुगल सेना द्वारा किए गए प्रयासों को विफल कर दिया था।

ये भी पढ़ें- बांसुरी स्वराज को टिकट, 4 सांसदों की छुट्टी... तो क्या दिल्ली में एक तीर से दो निशाना साध रही BJP?

Advertisement

 

Advertisement

Published March 5th, 2024 at 09:46 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo