Advertisement
Whatsapp logo

Updated February 13th, 2024 at 16:28 IST

शंभू बॉर्डर पर उग्र आंदोलन, 10000 प्रदर्शनकारियों का जमावड़ा, किसान नेता बोले- सरकार नहीं मानी तो...

हरियाणा-पंजाब शंभू सीमा पर हालत बेकाबू होते जा रहे हैं। भारी संख्या में यहां किसानों के पहुंचने का सिलसला जारी है। अब तक 10 हजार किसान यहां पहुंच चुके हैं।

Reported by: Rupam Kumari
Edited by: Rupam Kumari
Farmers Protest
किसान आंदोलन | Image:ANI
Advertisement

Farmers Protest: किसानों का दिल्ली चलो विरोध मार्च धीरे-धीरे उग्र होता जा रहा है। प्रदर्शनकारी किसान शंभू बॉर्डर पार करने की लगातार कोशिश कर कर रहे हैं। किसानों ने दिल्ली हरियाणा-पंजाब शंभू सीमा पार करने की कोशिश करते हुए सीमेंट बैरिकेड को हटा दिया। किसानों को रोकने के लिए पुलिस आंसू गैस का इस्तेमाल की।

हरियाणा-पंजाब शंभू सीमा पर हालत बेकाबू होते जा रहे हैं। भारी संख्या में यहां किसानों के पहुंचने का सिलसला जारी है। किसान पुलिस की लगाई बैरिकेडिंग तोड़ते हुए आगे बढ़ने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, शंभू बॉर्डर पर करीब 10 हजार किसान अब तक पहुंच गए हैं।

Advertisement

शंभू बॉर्डर पहुंचे 10 हजार किसान

पंजाब किसान मजदूर संघर्ष समिति के महासचिव सरवन सिंह पंढेर ने कहा, लगभग 10,000 लोग यहां शंभू सीमा पर पहुंचे हुए हैं। किसान यहां शांतिपूर्ण स्थिति बनाए हुए हैं। ड्रोन के जरिए हमारे खिलाफ आंसू गैस का इस्तेमाल किया जा रहा है। मगर हमें डरने वाले नहीं है। विरोध तब तक जारी रहेगा जब तक सरकार हमारी मांगों को नहीं मानती।

Advertisement

पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर किए वाटर केनन का इस्तेमाल

किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने से रोकने के लिए पुलिस लगातार कोशिश कर रही है। कुछ किसानों ने ट्रैक्टर की मदद से सीमेंट के अवरोधक हटाने का प्रयास किया। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि हरियाणा पुलिस द्वारा बैरिकेड से दूर रहने की अपील के बावजूद, कई युवा पीछे नहीं हटे और बैरिकेड के ऊपर खड़े रहे। इसके बाद प्रदर्शन कारियों को रोकने के पुलिस ने आंसू गैस और वाटर कैनन का इस्तेमाल किया।

दिल्ली में सुरक्षा के कड़े इंतजाम

किसान नेताओं और केंद्र के बीच बातचीत के बेनतीजा रहने के बाद मंगलवार को किसानों के ‘दिल्ली चलो’ मार्च को राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने से रोकने के लिए दिल्ली की सीमाओं पर बहुस्तरीय अवरोधक, कंक्रीट के अवरोधक, लोहे की कीलों और कंटेनर की दीवारें लगाकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

Advertisement

यह भी पढ़ें:राजीव चौक समेत 8 Metro स्टेशन पर बड़ा अपडेट, सफर से पहले जानना जरूरी

Advertisement

Published February 13th, 2024 at 15:52 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement
Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement