Advertisement
Whatsapp logo

Updated February 13th, 2024 at 15:02 IST

Farmers Protest: आंदोलन हुआ उग्र तो दिल्ली पुलिस अलर्ट, Lal Qila पर्यटकों के लिए बंद

किसानों के आंदोलन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने लाल किला को पर्यटकों के लिए बंद कर दिया है। लालकिले के आसपास बेरिकेट लगा कर सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है

Reported by: Rupam Kumari
Edited by: Rupam Kumari
Red Fort
Red Fort | Image:Unsplash
Advertisement

Farmers Protest: किसानों के दिल्ली कूच ऐलान के बाद पुलिस अलर्ट मोड में है। किसान आंदोलन को देखते हुए दिल्ली से लगने वाली सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है तो शहर के अंदर भी प्रमुख संस्थानों की सुरक्षा बढ़ा दी गई। किसानों को शहर में प्रवेश करने से रोकने के लिए राष्ट्रीय राजधानी को अवैध किले में तबदील कर दिया गया है। आंदोलन को देखते हुए लाल किला को बंद कर दिया गया है। 


किसानों के आंदोलन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने लाल किले की सुरक्षा बढ़ा दी है। लालकिले के आसपास बेरिकेट लगा कर सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। पुलिस ने बताया कि लाल किले को फिलहाल पर्यटकों के लिए बंद कर दिया गया है। लाल किले के मेन गेट पर कई लेयर की बेरिकेडिंग की गई है। मेन गेट पर बस और ट्रक खड़ी कर दी गई है ताकि बाहर की कोई गाड़ी अंदर नहीं जा पाए।

Advertisement

किसान आंदोलन को लेकर लाल किला बंद

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि ऐतिहासिक लाल किला परिसर को सुरक्षा कारणों से पर्यटकों के लिए अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि पुरानी दिल्ली में स्थित मुगल काल के इस विश्व धरोहर स्थल को सुरक्षा कारणों से सोमवार देर रात को अचानक सील कर दिया गया।

Advertisement

किसानों के दिल्ली की ओर कूच करने के मद्देनजर दिल्ली मेट्रो के भी आठ स्टेशन पर एक या उससे अधिक प्रवेश व निकासी गेट मंगलवार को सुबह बंद कर दिए गए। हालांकि, ये स्टेशन बंद नहीं हैं और यात्रियों को अन्य गेट के जरिए प्रवेश और निकासी की अनुमति दी गयी है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पुलिस प्राधिकारियों के निर्देश पर सुरक्षा व्यवस्था के लिए गेट बंद कर दिए गए हैं।

दिल्ली के सभी बॉर्डर सील

किसान आंदोलन को लेकर दिल्ली में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। दिल्ली से सटे सभी राज्यों के बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है और अतिरिक्त पुलिस बलों की तैनाती की गई है। इन इलाकों में जगह-जगह बैरिकेडिंग लगाई गई है। इसके पहले सोमवार (12 फरवरी) की रात को दिल्ली चलो मार्च रोकने के लिए किसान नेताओं की केंद्रीय मंत्रियों के साथ पांच घंटे से अधिक समय तक चली बैठक बेनतीजा रही। जिसके बाद किसान मंगलवार (13 फरवरी) से ‘दिल्ली मार्च’ शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें: Farmers Protest ने दिल्ली की रफ्तार पर लगाई ब्रेक, कई मेट्रो स्टेशन बंद

Advertisement

Published February 13th, 2024 at 14:49 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement
Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement