Advertisement
Whatsapp logo

Updated February 13th, 2024 at 15:05 IST

'ना वो किसान हमसे ज्यादा दूर हैं और ना दिल्ली...', उग्र Farmers Protest के बीच Rakesh Tikait की धमकी

Rakesh Tikait ने किसानों के प्रदर्शन को लेकर धमकी दी है। उन्होंने पूंजीवादी कंपनियों..राजनीतिक पार्टियों और दिल्ली दूर नहीं कह कर बड़ा संदेश दिया।

Reported by: Kiran Rai
Rakesh Tikait
राकेश टिकैत | Image:Rakesh Tikait - X
Advertisement

Rakesh Tikait:  हरियाणा और पंजाब बॉर्डर से किसानों का रेला दिल्ली कूच कर गया। इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने धमकी दी है। राकेश टिकैत ने किसानों के प्रदर्शन को लेकर जो कहा हैसीधे तौर पर वो धमकी है। उन्होंने पूंजीवादी कंपनियों..राजनीतिक पार्टियों और दिल्ली दूर नहीं कह कर बड़ा संदेश दिया है। 

किसान अपने स्टैंड पर अटल हैं। शंभू बॉर्डर पर उग्र प्रदर्शन हुआ तो पुलिस को उन्हें रोकने के लिए आगे आना पड़ा। किसानों को तितर बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागने पड़े। 

Advertisement

क्या कहा टिकैत ने?

टिकैत ने कहा है- किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा, "देश में बड़ी पूंजीवाद कंपनिया हैं... उन्होंने एक राजनीतिक पार्टी बना ली है और इस देश पर कब्जा कर लिया है। ऐसे में दिक्कतें आएंगी ही... अगर उनके(किसान) साथ कोई अन्याय हुआ। सरकार ने उनके लिए कोई दिक्कत पैदा की तो ना वो किसान हमसे ज्यादा दूर हैं और ना दिल्ली हमसे ज्यादा दूर है..."

Advertisement

मांगों को लेकर अड़े किसान

12 फरवरी की रात चंडीगढ़ में साढ़े 5 घंटे चली मीटिंग में किसान नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों के बीच MSP गारंटी कानून और कर्ज माफी पर बात बेनतीजा रही। किसान मजदूर मोर्चा के संयोजक सरवण सिंह पंधेर ने इसके बाद ही किसानों को दिल्ली चलने को कहा। पंधेर ने किसानों को पंजाब-हरियाणा की शंभू, खनौरी और डबवाली बॉर्डर पर इकट्‌ठा होने के लिए कहा। उन्होंने सरकार पर किसानों को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया। आंदोलन को देखते हुए दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के बॉर्डर सील हैं। दिल्ली में कड़ी बैरिकेडिंग की गई। एक महीने के लिए धारा 144 भी लागू कर दी गई है।

राजस्थान में इंटरनेट सेवा बंद

राजस्थान के 3 जिलों में इंटरनेट बंद कर दिया गया । रात 12 बजे तक के लिए श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ और अनूपगढ़ में इंटरनेट बंद कर दिया गया। श्रीगंगानगर में किसान आर्मी के जिला सचिव गुरलाल सिंह ने कहा है कि हमारा प्रयास होगा कि हम छोटे रास्तों से हरियाणा के डबवाली पहुंचे। वहां गुरुद्वारे में मीटिंग के बाद आगे बढ़ने का कार्यक्रम तय होगा। किसानों के नहीं मानने के बाद उन्हें राजधानी में प्रवेश से रोकने के लिए पुलिस ने दिल्ली के सभी बॉर्डर को बंद कर दिया है तो  ट्रैक्टरों को रोकने के लिए  कील वाले फ्रेम, कंटीले तारों की फेंसिंग, और सड़कों पर सीमेंट के बोल्डर रखे गए हैं।

ये भी पढ़ें- Breaking News Farmer Protest Live : किसान आंदोलन पर बड़ी खबर

Advertisement

Published February 13th, 2024 at 14:35 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement
Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement