Advertisement

Updated June 8th, 2024 at 22:42 IST

सीएम योगी हुए सख्त, बोले- जनता की समस्या सुनकर उनका समाधान सुनिश्चित करें सभी मंत्री

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य सरकार के मंत्रियों को ‘संवाद, समन्वय और संवेदनशीलता’ का मंत्र देकर एक बार फिर से जनता के बीच जाने के निर्देश दिए हैं।

cm yogi
cm yogi | Image:grab
Advertisement

लोकसभा चुनाव संपन्न होने के साथ ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य सरकार के मंत्रियों को ‘संवाद, समन्वय और संवेदनशीलता’ का मंत्र देकर एक बार फिर से जनता के बीच जाने के निर्देश दिए हैं।

हालांकि, मंत्रियों की इस बैठक में दोनों उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और ब्रजेश पाठक मौजूद नहीं थे। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य दिल्ली में थे, जबकि ब्रजेश पाठक भी शहर से बाहर थे। केशव प्रसाद मौर्य ने शनिवार को सोशल मीडिया मंच 'एक्स' पर एक पोस्ट में कहा, "नयी दिल्ली स्थित उत्तर प्रदेश सदन में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की बिहार इकाई के अध्यक्ष एवं बिहार सरकार के माननीय उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी जी से अनौपचारिक मुलाकात की और लोकसभा चुनाव में बिहार में मिली शानदार जीत के लिए हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं।"

Advertisement

इस बीच, संपर्क किए जाने पर उपमुख्‍यमंत्री ब्रजेश पाठक ने 'पीटीआई-भाषा' से कहा, "मैं लखनऊ से बाहर था, क्योंकि मुझे कुछ कार्यक्रमों में शामिल होना था, जो पहले से तय थे।" इस बैठक में मौजूद प्रदेश सरकार के एक वरिष्ठ मंत्री ने 'पीटीआई-भाषा' से कहा, "दोनों उपमुख्यमंत्री (केशव प्रसाद मौर्य और ब्रजेश पाठक) अपने पूर्व नियोजित कार्यक्रमों के कारण मंत्रिपरिषद की बैठक में शामिल नहीं हुए।"

उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद भी बैठक में शामिल हुए। यहां जारी एक बयान के मुताबिक बैठक में मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा, ‘‘सरकार जनता के लिए है, हमारे लिए जनहित सर्वोपरि है, ऐसे में समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति की समस्याओं का समाधान, अपेक्षाओं और आवश्यकताओं पूरा किया जाना चाहिए।’’

Advertisement

योगी ने कहा, ‘‘मंत्री क्षेत्र में जाएं, संवेदनशीलता के साथ जनता से संवाद करें और स्थानीय जनप्रतिनिधियों तथा शासन-प्रशासन के साथ समन्वय बनाते हुए समस्याओं का समाधान कराएं।’’ एक बयान के मुताबिक शनिवार को मंत्रिमंडल की विशेष बैठक में मुख्यमंत्री ने सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में लगातार तीसरी बार केंद्र में सरकार बनने और सांसद निर्वाचित होने वाले मंत्रियों को बधाई दी।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री मोदी जी के 10 वर्षों के कार्यकाल में जिस तरह उत्तर प्रदेश में विकास को रफ्तार मिली है, आने वाले पांच वर्षों में हम अनेक नए कीर्तिमान रचने में सफल होंगे।’ उन्होंने कहा कि सभी माननीय मंत्रिगण केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियों का व्यापक प्रचार-प्रसार करें, सोशल मीडिया पर सक्रियता बढ़ाएं और डबल इंजन सरकार की नीतियों, निर्णयों तथा उनके सकारात्मक परिणाम से जनता को अवगत कराएं।

Advertisement

मुख्यमंत्री ने इस बात पर बल दिया कि मंत्रिगण हों या कि अन्य जनप्रतिनिधि, सभी को ‘वीआईपी’ संस्कृति से परहेज करना होगा। भावी कार्यक्रमों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में वृहद पौधारोपण, स्कूल चलो अभियान और संचारी रोग नियंत्रण के कार्यक्रम होने हैं ऐसे में इनकी सफलता के लिए सभी को प्रयास करना होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘वित्तीय वर्ष 2024-25 की पहली तिमाही समाप्त होने वाली है। सभी विभागों द्वारा वर्तमान बजट में प्राविधानित धनराशि का यथोचित खर्च किया जाना सुनिश्चित किया जाए। आवंटन और व्यय में तेजी की अपेक्षा है। विभाग स्तर पर खर्च की समीक्षा भी जाए। संबंधित मंत्री अपने विभागीय स्थिति की समीक्षा करें।’’

Advertisement

यह भी पढ़ें :  नेहरू के बाद तीसरी बार प्रधानमंत्री की शपथ लेंगे नरेंद्र मोदी, कैसा था जवाहर लाल के समय समीकरण?

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published June 8th, 2024 at 22:42 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

2 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
7 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo