Updated May 16th, 2024 at 22:38 IST

BREAKING: स्वाति मालीवाल कांड से उठेगा पर्दा? 4 घंटे तक पूछताछ के बाद आवास से निकली दिल्ली पुलिस

दिल्ली पुलिस 4 घंटे की पूछताछ के बाद स्वाति मालीवाल के आवास से बाहर आ गई है।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Deepak Gupta
राज्यसभा सदस्य स्वाति मालीवाल | Image:ANI
Advertisement

Breaking: आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल के साथ मुख्यमंत्री आवास में बदसलूकी के मामले में दिल्ली पुलिस 4 घंटे की पूछताछ के बाद स्वाति मालीवाल के आवास से बाहर आ गई है। स्वाति ने दिल्ली पुलिस को पीसीआर कॉल करके 13 मई को इसकी जानकारी दी थी। हालांकि उन्होंने मामले में शिकायत दर्ज नहीं करवाई थी।

सूत्रों की माने तो पुलिस स्वाति मालीवाल से ये जानने आई थी कि क्या उनके साथ अगर कोई मारपीट हुई है तो उन्होंने कोई शिकायत क्यों नहीं दी, क्या उनके ऊपर किसी तरह का कोई दबाव तो नहीं है। उनको किसी तरह की धमकी तो नहीं मिली है।

Advertisement

13 मई को स्वाति मालीवाल के साथ क्या हुआ?

Advertisement

13 मई को दिल्ली पुलिस को एक PCR कॉल मिली थी, जिसमें कॉलर ने खुद को स्वाति मालीवाल बताते हुए दावा किया था कि दिल्ली सीएम के आवास पर उनके ऊपर हमला हुआ है। दिल्ली पुलिस बताती है कि '13 मई को सुबह 9.34 बजे सिविल लाइंस पुलिस को एक पीसीआर कॉल मिली, जिसमें एक महिला ने सीएम आवास पर हमला होने का दावा किया। कुछ समय बाद सांसद मैडम (मालीवाल) पुलिस स्टेशन पहुंची थीं, लेकिन वो ये कहकर तुरंत चली गई कि वो बाद में शिकायत दर्ज कराएंगी।'

केजरीवाल के करीबी पर लगे आरोप

Advertisement

जब घटना का खुलासा हुआ तो आरोप अरविंद केजरीवाल के करीबी विभव कुमार पर लगे। विभव ने स्वाति मालीवाल के साथ दुर्वव्यहार और अभद्रता की थी। ये वही विभव कुमार हैं, जो पहले भी विवादों में आए थे। विभव पर 2007 में नोएडा में अपने साथियों के साथ मिलकर कथित रूप से मारपीट का आरोप लगा था। उसके अलावा दिल्ली जल बोर्ड घोटाले से लेकर शराब घोटाले तक विभव कुमार का नाम चर्चा में आया था।ईडी की टीम ने भी विभव कुमार से पूछताछ की थी। विभव कुमार 2015 में मुख्यमंत्री केजरीवाल के निजी सचिव बने।

इसे भी पढ़ें : गोवा के 7 स्टार होटल में रुके थे केजरीवाल, 45 करोड़ रुपये किसने लिए?

Advertisement

Published May 16th, 2024 at 18:37 IST

Whatsapp logo