Advertisement

Updated June 11th, 2024 at 10:37 IST

दोषी को फांसी दी जाए, साजिश को करुंगा बेनकाब...1 करोड़ की रंगदारी मामले में FIR पर भड़के पप्पू यादव

पूर्णिया से निर्दलीय चुनाव जीतने वाले पप्पू यादव एक बार फिर सुर्खियों में है। उनके खिलाफ चुनाव जीतने के ठीक 6 दिन बाद FIR दर्ज हुआ है।

Reported by: Rupam Kumari
papJan Adhikar Party National President Pappu Yadav pu yadav
पप्पू यादव | Image: PTI/File
Advertisement

Fir on Pappu Yadav: पूर्णिया (Purnia) से निर्दलीय चुनाव जीतने वाले पप्पू यादव (PAPPU YADAV) एक बार फिर सुर्खियों में है। पप्पू के खिलाफ चुनाव जीतने के ठीक 6 दिन बाद FIR दर्ज हुआ है। उन पर एक बड़े व्यवसायी ने जबरन एक करोड़ की वसूली का आरोप लगाया है। शिकायत के आधार पर सांसद और उनके करीबी सहयोगी अमित यादव के खिलाफ मुफस्सिल थाने में भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

पुलिस के मुताबिक एक फर्नीचर व्यवसायी ने अपनी शिकायत में बताया है कि 4 जून को मतगणना वाले दिन पप्पू यादव ने उसे अपने घर बुलाया था। जब व्यवसायी उनके घर पहुंचा तो नवनिर्वाचित सांसद ने उनसे एक करोड़ रुपये मांगे और नहीं देने पर उसे जान से मारने की धमकी भी दी। शिकायतकर्ता ने 10 जून को लिखित आवेदन के माध्यम से पुलिस से मामले की शिकायत की।

Advertisement

पप्पू पर व्यवसायी से 1 करोड़ की रंगदारी मांगने का आरोप

पूर्णिया जिले की पुलिस द्वारा जारी एक बयान के अनुसार पप्पू यादव ने साज-सजावट का व्यवसाय करने वाले शिकायतकर्ता को चार जून को मतगणना के दिन अपने आवास पर बुलाया और उनसे एक करोड़ रुपये मांगे। शिकायतकर्ता ने यह भी आरोप लगाया कि सांसद ने पहले 2021 और 2023 में भी इसी तरह की मांग की थी। व्यवसायी ने आरोप लगाया कि इस बार उन्होंने रुपये नहीं देने पर उन्हें जान से मारने की धमकी दी और कहा कि अगले पांच साल तक वो पूर्णिया के सांसद रहेंगे तो उसे तब तक उनसे निपटना होगा।

Advertisement

आरोपों पर पप्पू यादव की सफाई

वहीं, पप्पू यादव ने आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताया और कहा कि यह मामला मेरी राजनीतिक छवि बिगाड़ने की एक साजिश है।  जिसकों में जानता तक नहीं उसके द्वारा यह आरोप लगाना भी बिल्कुल निराधार है। पप्पू ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट लिखकर मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट से कराने की भी बात कह दी।

Advertisement

 जो दोषी हो उसे फांसी दे दें-पप्पू यादव 

पप्पू ने अपने पोस्ट में लिखा, देश प्रदेश की राजनीति में मेरे बढ़ते प्रभाव और आम लोगों के बढ़ते स्नेह से परेशान लोगों ने आज पूर्णिया में घृणित षड्यंत्र रचा है। एक अधिकारी और विरोधियों के इस साजिश को पूर्ण रूप से बेनकाब करेंगे। सुप्रीम कोर्ट के अधीन इसकी निष्पक्ष जांच करवाई जाय, जो दोषी हो उसे फांसी दे दें।

निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर पप्पू ने जीता चुनाव

बता दें कि हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में पप्पू पूर्णिया सीट से निर्वाचित हुए। उन्होंने JDU के दो बार के सांसद संतोष कुशवाहा को हराया था। रंजीत रंजन उर्फ पप्पू यादव ने चुनाव से पहले अपनी जन अधिकार पार्टी का कांग्रेस में विलय कर दिया था, मगर महागठबंन में पूर्णिया से सीट नहीं मिलने पर वो निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में मैदान में उतरे थे। इस सीट से RJD उम्मीदवार बीमा भारती तीसरे स्थान पर रहीं और उनकी जमानत जब्त हो गई। वह JDU से नाता तोड़कर राजद में शामिल हुई थीं।

यह भी पढ़ें: मोदी कैबिनेट में मंत्रालय का बंटवारा, नितिन गडकरी फिर बने सड़क परिवहन मंत्री; सामने आई पहली लिस्ट

Advertisement

Published June 11th, 2024 at 08:21 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo