Advertisement
Whatsapp logo

Updated February 13th, 2024 at 16:40 IST

Bihar में AIMIM नेता अब्दुल सलाम की हत्या पर भड़के ओवैसी, कहा- 'नीतीश के CM बनते ही सौगात...'

गोपालगंज में AIMIM के प्रदेश सचिव अब्दुल सलाम उर्फ असलम मुखिया की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

Reported by: Kiran Rai
AIMIM Asaduddin Owaisi
असदुद्दीन ओवैसी ने बिहार सरकार से पूछे सवाल | Image:File Photo-Facebook
Advertisement

Bihar News:  गोपालगंज में असद्दुदीन ओवैसी की पार्टी AIMIM के प्रदेश सचिव अब्दुल सलाम उर्फ असलम मुखिया की सोमवार रात गोली मारकर हत्या कर दी गई। तुरकहा पुल के पास एनएच-531 पर बाईक सवार अपराधियों ने हत्या कर दी। मुखिया बाईक से ही लखनऊ जाने के लिए थावे जंक्शन पर ट्रेन पकड़ने जा रहें थे। अपने नेता की हत्या को लेकर ओवैसी ने अपनी नाराजगी जाहिर की।

AIMIM चीफ ने इसे नीतीश सरकार की सौगात करार दिया। इससे पहले उन्होंने एक्स पोस्ट में लिखा था कि हमारे नेता ही निशाने पर क्यों? आपको बता दें कि 12 फरवरी को ही नीतीश कुमार ने सदन में विश्वास प्रस्ताव हासिल किया था और ओवैसी इसी ओर इशारा कर रहे थे।

Advertisement

ओवैसी की नाराजगी

एएनआई से बातचीत में ओवैसी ने कहा-  नीतीश कुमार एक बार फिर बिहार के मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने सौगात दिया। गोपालगंज में हमारी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता अब्दुल सलाम की हत्या कर दी गई है... सिवान में भी दो महीने पहले हमारी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता की हत्या कर दी गई थी। ऐसा लग रहा है कि नीतीश कुमार के शासन में कानून व्यवस्था पर कोई नियंत्रण नहीं रह गया है।  वहां राजद नहीं बल्कि भाजपा है लेकिन कानून एवं व्यवस्था का मुद्दा अभी भी जारी है। दुर्भाग्य से, सरकार द्वारा अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है... जिम्मेदारी सरकार की है।

Advertisement

कौन थे असलम मुखिया?

नगर थाना क्षेत्र के तकिया याकूब गांव निवासी असलम मुखिया 2022 में विधानसभा उप चुनाव लड़ तीसरे नंबर पर रहे थे। वो मदरसा इस्लामिया गोपालगंज के सचिव थे और चौराव पंचायत के मुखिया भी रहे। हत्या के बाद पुलिस की सुरक्षा-व्यवस्था पर सवाल उठाए गए तो परिवार वालों ने इसे राजनीतिक हत्या करार दिया। एक और विवाद की बात भी सामने आई है। बताया जा रहा है किसी से जमीन र मदरसा की जमीन को लोगों के कब्जे से मुक्त कराने को लेकर विवाद चल रहा था।

Advertisement

पुलिस बोली तफ्तीश जारी

पुलिस के मुताबिक असलम मुखिया की हत्या में प्रथम दुष्टया आपसी रंजिश की बात सामने आई है। जांच के लिए एसआईटी गठित किया गया है। एसपी ने बताया कि अब तक की जांच और कार्रवाई में एसआईटी ने अपराधियों की बाईक और दो संदिग्धों को हिरासत में लिया है, उनसे पूछताछ की जा रही है। एसपी ने कहा कि जल्द ही हत्याकांड का खुलासा किया जाएगा और वारदात में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 

ये भी पढ़ें- Farmer Protest पर बड़ा अपडेट, कृषि मंत्री ने कहा- किसानों को कोई भड़का रहा है, इशारा किधर?
 

Advertisement

Published February 13th, 2024 at 16:27 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement
Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement