Advertisement

Updated April 1st, 2024 at 09:49 IST

'मूसा' भी जरूर आएगा...मुख्तार की मौत पर शोक जताने पहुंचे ओवैसी; बेटे उमर संग खाई बिरयानी

यूपी के माफिया मुख्तार अंसारी के निधन के बाद असदुद्दीन ओवैसी ने गाजीपुर पहुंचकर उसके परिवार से मुलाकात की। इस दौरान ओवैसी ने मुख्तार के बेटे के साथ खाना खाया।

Reported by: Ritesh Kumar
owaisi reaction mukhtar ansari death
मुख्तार अंसारी के परिवार से मिले ओवैसी | Image:pti
Advertisement

Asaduddin Owaisi On Mukhtar Ansari Death: यूपी के माफिया मुख्तार अंसारी के निधन के बाद ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन के चीफ असदुद्दीन ओवैसी उनके घर पहुंचे। गाजीपुर में मुख्तार अंसारी के परिवार से मुलाकात के बाद ओवैसी ने विवादित टिप्पणी की है। AIMIM के चीफ ने बिना नाम लिए बीजेपी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है।

लोकसभा चुनाव से पहले ओवैसी केंद्र सरकार पर हमला करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे। इस बार उन्होंने मुख्तार अंसारी की मौत पर सियासत की है। ओवैसी ने मुख्तार के परिजनों से मिलने के बाद अपने X अकाउंट पर लिखा, ''आज मरहूम मुख्तार अंसारी के घर गाजीपुर जाकर उनके खानदान को पुरसा दिया, इस मुश्किल वक्त में हम उनके खानदान, समर्थक और चाहने वालों के साथ खड़े हैं।

Advertisement

ओवैसी ने आगे क्या कहा?

असदुद्दीन ओवैसी यहीं नहीं रुके और उन्होंने शायराना अंदाज में भड़काऊ बयान दे दिया। उन्होंने आगे लिखा कि इंशा अल्लाह इन अंधेरों का जिगर चीरकर नूर आएगा, तुम हो 'फिरौन' तो 'मूसा' भी जरूर आएगा।

Advertisement

बता दें कि मुख्तार अंसारी की मौत के बाद जहां उसके गुनाहों को यादकर आम जनता खुश है, वहीं कुछ दल और नेता इसपर सियासत कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर में देख सकते हैं कि असदुद्दीन ओवैसी गाजीपुर में मुख्तार अंसारी के परिवार से मुलाकात कर रहे हैं। इस दौरान उन्हें माफिया मुख्तार के बेटे के साथ भोजन करते हुए भी देखा गया। टेबल पर बिरयानी और चिकन के अलावा कई तरह के पकवान नजर आ रहे हैं। 

Advertisement

बता दें कि कुख्यात माफिया मुख्तार अंसारी का 28 मार्च को यूपी के बांदा जेल में दिल का दौरा पड़ने की वजह से मौत हो गई। परिवार वालों ने आरोप लगाया था कि उसकी मौत जहर की वजह से हुई है, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साफ हो गया कि मुख्तार का निधन हार्ट अटैक से ही हुआ है। इसके बाद ओवैसी ने दुख जताते हुए अपने X अकाउंट पर लिखा था कि इन्ना लिल्लाही वा इन्ना इलैही राजिऊन। अल्लाह से दुआ है के वो मुख़्तार अंसारी को मग़फ़िरत फ़रमाए, उनके ख़ानदान और उनके चाहने वालों को सब्र-ए-जमील अदा करें। गाजीपुर की अवाम ने अपने चहीते बेटे और भाई को को खो दिया। मुख्तारसाहब ने प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाया था कि उन्हें जहर दिया गया था। बावजूद इसके, सरकार ने उनके इलाज पर तवज्जोह नहीं दिया। निंदनीय और अफसोसजनक।

Advertisement

इसे भी पढ़ें: Delhi Liquor Case: अरविंद केजरीवाल की ED रिमांड फिर बढ़ेगी या जाएंगे जेल, कोर्ट में आज पेशी


 

Advertisement

Published April 1st, 2024 at 09:29 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
5 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo