Advertisement

Updated April 1st, 2024 at 19:51 IST

नाश्ते में दलिया, लंच में दाल-रोटी... CM केजरीवाल तिहाड़ की कैंटीन में क्या खाएंगे? ये है मेन्यू

Delhi News: अरविंद केजरीवाल को जेल में क्या-क्या खाना मिलेगा, इसकी पूरी लिस्ट आ गई है।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Kunal Verma
Arvind Kejriwal to eat foods in tihar
अरविंद केजरीवाल को जेल में क्या-क्या खाना मिलेगा? | Image:PTI/प्रतीकात्मक तस्वीर
Advertisement

Delhi News: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल तिहाड़ पहुंच चुके हैं। अब 15 अप्रैल तक तिहाड़ में ही उनके दिन गुजरने वाले हैं। इस बीच एक बड़ी जानकारी सामने आई है।

अरविंद केजरीवाल को जेल में क्या-क्या खाना मिलेगा, इसकी पूरी लिस्ट आ गई है। आपको बता दें कि जिस जेल नंबर 2 में केजरीवाल हैं, उसमे 600 कैदी हैं, जिसमें ज्यादा सजायाफ्ता कैदी हैं। इसलिए जानबूझकर सुरक्षा कारणों से केजरीवाल को यहां रखा गया है, क्योंकि सजायाफ्ता कैदी वाली जेल नंबर 2 सुरक्षा के लिहाज से केजरीवाल के लिए सुरक्षित रहेगी।

Advertisement

केजरीवाल को क्या खाना मिलेगा?

  • दाल सब्जी कॉमन है लंच डिनर में सभी कैदियों के लिए
  • रोटी चावल में से एक आइटम ही आप ले सकते हैं खाने में
  • ब्रेकफास्ट में दलिया ब्रेड मिलता है और चाय
  • हर कैदी जो पहली बार जेल आता है उसे मुलाहिजा किट दी जाती है जिसमे रोजमर्रा के समान होते हैं।
  • केजरीवाल को एक तिहाड़ जेल का प्रिजनर अकाउंट दिया जाएगा जिसमें केजरीवाल के परिवार के सदस्य पैसा जमा कर सकते हैं, जिससे वो तिहाड़ जेल की कैंटीन से खाने-पीने रोजमर्रा दिनचर्या के समान खरीद सकते हैं, जिसमे सलाद, फुट्र्स, नमकीन बिस्किट, ब्रश पेस्ट आदि मिलेगा।

ED ने अपनी याचिका में क्या कहा?

याचिका में कहा गया है कि केजरीवाल को शराब कारोबारियों, थोक विक्रेताओं, खुदरा विक्रेताओं और यहां तक कि दिनेश अरोड़ा और अभिषेक बोइनपल्ली जैसे बिचौलियों सहित शराब व्यवसाय में शामिल अन्य सह-आरोपियों के साथ नायर की 10 से अधिक बैठकों के सबूत दिखाए गए थे।

Advertisement

इसमें कहा गया है, ‘‘गिरफ्तार व्यक्ति को यह समझाने के लिए कहा गया कि नायर किस अधिकार के साथ इन बैठकों में शामिल हुआ था, गिरफ्तार व्यक्ति ने इन व्यक्तियों के बारे में अनभिज्ञता का दावा करके सवाल टाल दिया और यह स्पष्ट है कि नायर जैसा वरिष्ठ पदाधिकारी जिसने गिरफ्तार व्यक्ति के साथ मिलकर काम किया है, वह पार्टी प्रमुख की मंजूरी और अनुमोदन के बिना खुद इस तरह से कार्य नहीं कर सकता।’’

'अंतिम लाभ आप को गोवा चुनाव प्रचार अभियान में मिला'

हिरासत याचिका में कहा गया, "ऐसा इसलिए भी क्योंकि इन साजिशों या बैठकों का अंतिम लाभ आप को गोवा चुनाव प्रचार अभियान में मिला।" इसमें कहा गया है कि केजरीवाल को लगभग 45 करोड़ रुपये के हवाला हस्तांतरण के सबूत दिखाए गए थे, जिसकी पुष्टि सीडीआर लोकेशन, कॉल रिकॉर्ड, व्हाट्सऐप चैट, गोवा में हवाला फर्म के जब्त किए गए आंकड़े और किए गए भुगतान के सबूत से हुई थी।

याचिका में कहा गया है कि उन्हें उन गवाहों के कई बयान भी दिखाए गए, जिन्होंने गोवा में आप के प्रचार अभियान पर काम किया था और जिन्होंने गोवा में आप के प्रचार अभियान के लिए काम करने वाले चनप्रीत सिंह से नकद प्राप्त किया था।

Advertisement

(इनपुटः PTI भाषा के साथ रिपब्लिक भारत)

ये भी पढ़ेंः तिहाड़ पहुंचते ही केजरीवाल ने बताई नामों की लिस्ट, परिवार के अलावा वो 3 कौन जिससे चाहते हैं मिलना?

Advertisement

Published April 1st, 2024 at 18:54 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
5 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo