Advertisement

Updated April 3rd, 2024 at 07:57 IST

Andhra Pradesh पुलिस ने नाबालिग छात्रा की खुदकुशी के मामले में 5 लोगों को अरेस्ट किया

आंध्र प्रदेश पुलिस ने एक नाबालिग छात्रा के आत्महत्या करने के सिलसिले में मंगलवार को पांच लोगों को गिरफ्तार किया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Nidhi Mudgill
arrests
अरेस्ट | Image:Shutterstock/ Representative
Advertisement

Andhra Pradesh: आंध्र प्रदेश पुलिस ने एक नाबालिग छात्रा के आत्महत्या करने के सिलसिले में मंगलवार को पांच लोगों को गिरफ्तार किया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 17 वर्षीय छात्रा ने अपने कॉलेज के अधिकारियों पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था।

पुलिस के अनुसार, छात्रा ने 28 और 29 मार्च की दरमियानी रात एक इमारत से कूदकर आत्महत्या कर ली थी। उसने आरोप लगाया था कि कुछ अज्ञात व्यक्तियों ने उसकी आपत्तिजनक तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी थी।

Advertisement

इस बीच, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने घटना का स्वत: संज्ञान लेते हुए आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिव और राज्य के पुलिस महानिदेशक को नोटिस जारी किया है। आयोग ने एक बयान में कहा कि जाहिर तौर पर, संस्थान के ‘‘अधिकारियों के लापरवाह रवैये’’ के कारण यह घटना हुई।

पुलिस ने शहर के कोमाडी चैतन्य पॉलिटेक्निक कॉलेज से पांच लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें रसायन विज्ञान प्रयोगशाला तकनीशियन के एन. शंकर राव, कॉलेज प्रबंधन के प्रमुख शंकर वर्मा, कॉलेज के प्राचार्य जी भानु प्रवीण, हॉस्टल वार्डन वी.उषा रानी और उसके पति वी.प्रदीप कुमार शामिल हैं। विशाखापत्तनम उत्तर के सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) बी.सुनील ने पीटीआई-भाषा को बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला है राव ने कथित तौर पर छात्रा का यौन उत्पीड़न किया था।

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published April 3rd, 2024 at 06:52 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo