Advertisement

Updated June 7th, 2024 at 14:09 IST

Blackout Review: ट्विन्स एंड टर्न्स ऐसे कि एक पल के लिए भी नहीं होंगे बोर, खूब एंटरटेन करेगी फिल्म

Blackout Review: विक्रांत मेस्सी की 'ब्लैकआउट' आखिरकार जियो सिनेमा पर रिलीज हो चुकी है। अगर आप भी इस फिल्म को देखने का सोच रहे हैं तो पहले रिव्यू जरूर पढ़ लें।

Reported by: Digital Desk
Vikrant Massey in Blackout
ब्लैकआउट में विक्रांत मैसी | Image:youtube
Advertisement

कलाकार : विक्रांत मेस्सी, सुनील ग्रोवर, मौनी रॉय, जिस्सु सेनगुप्ता, करण सुधाकर सोनावणे, सौरव दिलीप घाडगे, रूहानी शर्मा, अनंतविजय जोशी, केली डोरजी, छाया कदम 
लेखक और निर्देशक : देवांग शशिन भावसार 
निर्माता : ज्योति देशपांडे और नीरज कोठारी
संगीत : विशाल मिश्रा
रेटिंग : 4 स्टार

Blackout Review: एक‌ सीधी-सादी लगनी वाली कहानी के जरिए दर्शकों के मन को बहलाना, फिल्म खत्म‌ होने तक उ‌नका अनूठे तरीके‌ से मनोरंजन करना और आखिर तक उन्हें बांधे रखना कोई मामूली बात नहीं है। फिल्म 'ब्लैकआउट' भी ऐसी है एक फिल्म है जिसकी कहानी भले ही साधारण सी लगे, लेकिन अपने‌ असाधारण किरदारों, कहानी में आने वाले दिलचस्प उतार-चढ़ाव और उन्हें पेश करने‌ के अनूठे तरीकों के चलते एक बेहद दिलचस्प फिल्म के‌ रूप में सामने‌ आती है।

Advertisement

'ब्लैकआउट' कहानी एक ऐसे शख्स लेनी डिसूजा (विक्रांत मेस्सी) की है जो एक खोजी पत्रकार‌ है जिसे अपने एक से बढ़कर‌ एक‌ धमाकेदार‌ खुलासों के‌ लिए जाना जाता है लेकिन एक रात जब कुछ गुंडों द्वारा की गई डकैती और बाद होने वाले एक हादसे के दौरान जब कथित रूप से लेनी डिसूजा के हाथ लूट का‌ एक हिस्सा लगता है, तब यकायक उसकी जिंदगी का रुख‌ पूरी‌ तरह से बदल जाता है। इसके बाद उसके‌ साथ ऐसे ऐसे अजीबो-गरीब वाकये होते हैं कि उसे खुद भी यकीन नहीं होता है कि जिंदगी उसके साथ क्या कुछ कर‌ रही है।

'ब्लैकआउट' की सस्पेंस थ्रिलर से भरपूर यह अनूठी कहानी एक कॉमेडी फिल्म के तौर पर पूरी‌ तरह से मनोरंजक ‌भी है जिसमें होने वाली तमाम घटनाओं व आने वाले उतार-चढ़ावों को बड़े ही मजेदार ढंग से पेश किया गया है। कहानी से लेकर लेखन, छायांकन, संपादन संगीत और निर्देशन तक हरेक पक्ष हर पल‌ फिल्म में दिलचस्प बढ़ाते हैं और फिल्म के खत्म होने तक दर्शकों की दिलचस्पी को बनाए रखने में मददगार साबित होते हैं।

Advertisement

फिल्म के हर किरदार का चयन बिल्कुल सटीक तरह से किया गया है। खोजी पत्रकार के रूप में विक्रांत मेस्सी ने इस कदर कमाल का काम‌ किया है कि आप उनके सुख-दुख को पूरी तरह से महसूस कर सकते हैं। हर तरह की सिचुएअशन में विक्रांत मेस्सी की अदाकारी सबका दिल जीत लेती है। इस फिल्म के जरिए वे एक बार फिर से साबित करते हैं कि वे किसी भी तरह के किरदार को पूरी विश्वसनीयता के साथ निभाने में माहिर हैं।

फिल्म में एक शराबी शायर उर्फ असगर डॉन का रोल निभाने वाले सुनील ग्रोवर की भी जितनी तारीफ की जाए, कम ही होगी। उनका किरदार भी गजब ढंग से लिखा‌ गया है जिसे बढ़िया ढंग से निभाने में वो कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। जिस्सु सेनगुप्ता और मौनी रॉय भी अपनी-अपनी अदाकारी से खूब इम्प्रेस करते हैं। करण सुधाकर सोनावणे, सौरव दिलीप घाडगे, रूहानी शर्मा, अनंतविजय जोशी, केली डोरजी, छाया कदम ने भी अपनी‌-अपनी भूमिकाओं को‌ बड़े ही इंट्रेस्टिंग ढंग से निभाया है।

Advertisement

एक नरेटर के तौर पर‌ अनिल कपूर‌ दिल‌ जीत लेते हैं। फिल्म में विचित्र तरह के हरेक किरदार को इंट्रोड्यूस कराते वक्त अनिल कपूर अपनी सशक्त आवाज से खूब प्रभावित करते हैं। 'ब्लैकआउट की एक और खूबी है कि यह फिल्म कहीं भी दर्शकों को बोरियत का एहसास नहीं कराती है और अपने दिलचस्प ट्विन्स ऐंड टर्न्स के जरिए लोगों का अनोख अंदाज में भरपूर मनोरंजन करती है और जैसे जैसे फिल्म आगे बढ़ती है, उनकी उत्सुकता को बढ़ाती रहती है। जियो सिनेमा पर स्ट्रीम हो रही 'ब्लैकआउट' को जरूर देखें।

ये भी पढ़ेंः कंगना ने थप्पड़ कांड को बताया टेरर अटैक, बोलीं- वह 'खालिस्तानी स्टाइल' में चुपचाप पीछे से आई और…

Advertisement

Published June 7th, 2024 at 13:20 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

2 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
7 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo