Advertisement

Updated June 9th, 2024 at 14:19 IST

थप्पड़ कांड पर कंगना को मिला बॉलीवुड का सपोर्ट; ऋतिक, आलिया, अर्जुन जैसे स्टार्स ने किया रिएक्ट

Kangana Ranaut Slapgate: कंगना रनौत को चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर सीआईएसएफ की एक कॉन्सटेबल कुलविंदर कौर द्वारा थप्पड़ मारने के मामले में ऋतिक रोशन, आलिया भट्ट, सोनाक्षी सिन्हा, जोया अख्तर, सोनी राजदान, अर्जुन कपूर और प्राजक्ता कोली सहित कई बॉलीवुड हस्तियों ने अभिनेत्री को खुलकर समर्थन दिया है।

Kangana Ranaut
थप्पड़ कांड के बाद कंगना को बॉलीवुड सपोर्ट | Image:Instagram
Advertisement

Kangana Ranaut Slapgate: कंगना रनौत को चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर सीआईएसएफ की एक कॉन्सटेबल कुलविंदर कौर द्वारा थप्पड़ मारने के मामले में ऋतिक रोशन, आलिया भट्ट, सोनाक्षी सिन्हा, जोया अख्तर, सोनी राजदान, अर्जुन कपूर और प्राजक्ता कोली सहित कई बॉलीवुड हस्तियों ने अभिनेत्री को खुलकर समर्थन दिया है।

यह घटना गुरुवार 6 जून की दोपहर चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर हुई, जब कंगना हिमाचल प्रदेश के मंडी से भाजपा उम्मीदवार के रूप में 2024 का लोकसभा चुनाव जीतने के एक दिन बाद नई दिल्ली जा रही थीं।

Advertisement

अनुपम खेर, मीका सिंह, रवीना टंडन और शेखर सुमन सहित कई हस्तियों ने इस घटना की निंदा की है।

कंगना के कथित पूर्व प्रेमी ऋतिक और आलिया ने भी इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

Advertisement

वहीं, पत्रकार फेय डिसूजा ने थप्पड़ की घटना की निंदा करते हुए इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर की।

पोस्‍ट में उन्‍होंने लिखा, "हिंसा कभी भी जवाब नहीं हो सकती।"

Advertisement

आगे लिखा, ''खास तौर पर हमारे देश में तो बिल्कुल नहीं, जो गांधी के अहिंसा के आदर्शों से जन्मा है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि हम किसी के विचारों और बयानों से कितने असहमत हैं, हम हिंसा के रूप में प्रतिक्रिया नहीं दे सकते और हमें इसे बर्दाश्त नहीं करना चाहिए।''

पत्रकार ने कहा कि जब सुरक्षाकर्मी वर्दी में रहते हुए हिंसक घटनाओं को अंजाम देते हैं तो यह विशेष रूप से खतरनाक है।

Advertisement

इस पोस्ट को ऋतिक रोशन, आलिया भट्ट, अर्जुन कपूर, सोनाक्षी सिन्हा, जोया अख्तर और सोनी राजदान समेत कई लोगों ने लाइक किया है।

शनिवार को कंगना ने सीआईएसएफ कर्मियों का समर्थन करने वालों के नाम एक लंबा नोट शेयर किया।

Advertisement

उन्होंने लिखा, ''हर बलात्कारी, हत्यारे या चोर के पास अपराध करने के लिए हमेशा एक भावनात्मक, शारीरिक, मानसिक और आर्थिक कारण होता है। कोई भी अपराध बिना कारण के नहीं होता। फिर भी उन्हें दोषी ठहराया जाता है और जेल की सजा सुनाई जाती है। अगर आप अपराधी के अपराध करने के मजबूत भावनात्मक आवेग के साथ जुड़ जाते हैं, तो आप देश के सभी कानूनों का उल्लंघन करते हैं।"

ये भी पढ़ेंः कंट्रोवर्सी के सालों बाद कंगना के सपोर्ट में आए ऋतिक रोशन, थप्पड़ कांड पर दिया ऐसा रिएक्शन

Advertisement

Published June 9th, 2024 at 14:19 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
1 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
6 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo