Advertisement

Updated March 5th, 2024 at 12:33 IST

स्टूडेंट लाइफ में एक जिद, सुसाइड का ख्याल...फिर मनोज बाजपेयी ने कैसे छुई एक्टिंग की ऊंचाई?पूरी कहानी

Bollywood: आपको फिल्म ‘सत्या’ के भीखू म्हात्रे तो जरूर याद होंगे जिसका किरदार बिहारी बाबू मनोज बाजपेयी ने निभाया था।

Reported by: Sakshi Bansal
Manoj Bajpayee
मनोज बाजपेयी | Image:X
Advertisement

Bollywood: फिल्म इंडस्ट्री में नाम कमाना कोई आसान बात नहीं है। इंसान एक पहचान बनाने के लिए अपनी पूरी जिंदगी लगा देता है। फिर भी कुछ लोग जिंदगी भर लोगों के दिलों में जगह नहीं बना पाते। वहीं कुछ ऐसे होते हैं जो एक फिल्म से ही रातों-रात मशहूर हो जाते हैं। और जब सालों बाद कमबैक करते हैं तो लोगों को बता देते हैं कि इस बार वो इतनी जल्दी जाने वाले नहीं हैं। आज ऐसे ही एक स्टार की बात करेंगे जिन्हें तीन बार नेशनल अवार्ड से नवाजा जा चुका है।

आपको फिल्म ‘सत्या’ के भीखू म्हात्रे तो जरूर याद होंगे जिसका किरदार बिहारी बाबू मनोज बाजपेयी ने निभाया था। उस समय उनका डायलॉग- ‘मुंबई का किंग कौन…भीखू म्हात्रे’ खूब मशहूर हुआ था। बच्चे-बच्चे की जुबां पर ये डायलॉग चढ़ गया था। इसी एक्टर ने जब आगे जाकर ‘फैमिली मैन’ का रोल किया तो यहां भी कामयाबी के झंडे गाड़ दिए लेकिन मनोज के लिए ये सफर बिल्कुल भी आसान नहीं था।

Advertisement

रिजेक्शन से तंग आकर सुसाइड करने वाले थे मनोज बाजपेयी 

मनोज बाजपेयी का जन्म बिहार के पश्चिमी चंपारण के छोटे से गांव बेलवा बहुअरी में हुआ था। रामजस कॉलेज में पढ़ने के लिए वह दिल्ली चले गए। वहां उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में दाखिला लेने की तीन बार कोशिश की और तीनों बार ही रिजेक्ट हो गए। मनोज से रिजेक्शन का सदमा बर्दाश्त नहीं हुआ और वो सुसाइड करना चाहते थे। बाद में उन्होंने, बैरी जॉन के साथ थिएटर किया। कमाल की बात ये है कि उन्हें बाद में एनएसडी में स्टूडेंट की जगह टीचर की पोजीशन ऑफर की गई।

Advertisement

थिएटर की दुनिया से आकर उन्हें शेखर कपूर की फिल्म ‘बैंडिट क्वीन’ में काम करने का मौका मिला। हालांकि, उन्हें पहचान मिली राम गोपाल वर्मा की फिल्म ‘सत्या’ से जिसमें उनके द्वारा निभाया गया भीखू म्हात्रे का किरदार हिंदी सिनेमा के इतिहास में हमेशा के लिए दर्ज हो गया। इसके बाद उन्होंने ‘शूल’, ‘पिंजर’, ‘जुबेदा’, ‘वीर जारा’, ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’, ‘राजनीति’, ‘अक्स’ और ‘सत्यमेव जयते’ जैसी फिल्मों में भी अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाया। 

आज हैं करोड़ों की संपत्ति के मालिक

मनोज बाजपेयी भले ही बॉलीवुड में कई सालों से काम कर रहे हो लेकिन उन्हें वैसा फेम नहीं मिला जिसके वह हकदार थे। फिर फिल्म ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ आई जिसमें सरदार खान के रोल ने उन्हें फिर से शोहरत की बुलंदियों पर पहुंचा दिया। इसके बाद तो एक्टर को बड़ी-बड़ी फिल्मों के ऑफर मिलने लगे। और केवल फिल्में ही नहीं, मनोज बाजपेयी ने जब 2019 में ‘फैमिली मैन’ बनकर ओटीटी की दुनिया में कदम रखा तो यहां भी अपनी छाप छोड़ दी। आज मनोज बाजपेयी बॉलीवुड के सबसे टैलेंटिड और कामयाब एक्टर्स में से एक माने जाते हैं। आज वह 100 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति के मालिक हैं। 

ये भी पढ़ेंः Rajinikanth: अंबानी बैश में पहुंचते ही थलाइवा ने ऐसा क्या कर दिया? सोशल मीडिया पर भड़के लोग

Advertisement

Published March 5th, 2024 at 09:55 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo