Advertisement

Updated June 6th, 2024 at 16:46 IST

INDI गठबंधन का हिस्सा फिर भी कांग्रेस से अलग लड़ने का फैसला...कैसे साबित हुआ ममता का मास्टरस्ट्रोक?

ममता बनर्जी ने सारे किंतु-परंतु को किनारे कर बंगाल में लड़ाई लड़ी। INDI अलायंस की अहम साथी ने अपनी शर्तों से समझौता नहीं किया और कांग्रेस को भी चुनौती भरपूर दी।

Reported by: Kiran Rai
Mamata Banerjee Congress INDIA Alliance
ममता बनर्जी का मास्टरस्ट्रोक | Image:ANI/File
Advertisement

Mamata Banerjee Masterstroke:  बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने जिस अंदाज में अपने विरोधियों और अपने साथियों संग मिलकर मुकाबला किया नतीजा उनके पक्ष में गया तो गठबंधन का दोस्त कांग्रेस 2 से 1 सीट पर सिमट गया।

ममता बनर्जी की बंपर जीत उनके कॉन्फिडेंस की गवाही देती है। इसमें बीजेपी को हराने की जिद्द तो दिखती ही है साथ ही कांग्रेस की कमजोर पकड़ का सटीक आकलन भी झलकता है। लगातार दिखाती रही आंख, 

Advertisement

ठान ली रार

इंडी अलायंस जहां 234 सीटों के साथ ठीक ठाक पोजिशन पर दिख रहा है तो वहीं बंगाल में दीदी का बढ़ता कद उनके लिए भविष्य में मुसीबत का सबब बन सकता है। वो पहले भी अपने तेवर दिखाती रही हैं। हाल ही में 1 जून को घटक दलों की बैठक में भी दिल्ली नहीं पहुंची तो सीट शेयरिंग के दौरान भी आंखें दिखाती रहीं। उसका ही नतीजा था कि कांग्रेस अलग लड़ी और वो अलग! चुनावी नतीजों से पहले ही कह चुकी थीं कि वो इंडी अलायंस की सरकार बनने पर समर्थन तो करेंगी लेकिन बाहर से।

Advertisement
ममता के बढ़ते रसूख को दिखाता नतीजा (सोर्स- ECI site)

दीदी का बढ़ता कद और कांग्रेस का...

ममता बनर्जी ने जो कहा उसे जमीन पर उतार भी दिया। सीट शेयरिंग को लेकर रस्साकशी चली तो  ममता ने खुलकर विरोध सार्वजनिक जगहों पर किया।  TMC प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 24 जनवरी को अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया। वो क्षेत्रीय दलों को अहमियत देने की मांग को लेकर खफा थीं। कांग्रेस 10-12 सीट मांग रही थी और ममता 2 पर ही अड़ी थीं।

Advertisement

चुनाव के नतीजे बता रहे हैं कि दीदी ने हवा में नहीं तीर छोड़ा था बल्कि वो अपने स्टैंड को लेकर क्लियर थीं। पता था कि कांग्रेस को लेकर सकारात्मकता का संचार बंगाल में नहीं है और बीजेपी से टक्कर लेनी है तो उन्हें कमान अपने हाथ में ही संभालनी होगी। नतीजा सामने है दीदी का कद बढ़ गया और कांग्रेस का उनके मुकाबले में घट गया। तभी तो राजनीति पर नजर रखने वाले इसे ममता का मास्टर स्ट्रोक करार दे रहे हैं।

ये भी पढ़ें- BJP को UP में क्यों हुआ भारी नुकसान? योगी के मंत्री संजय निषाद बोले- आरक्षण पर दिए गए बयान... - Republic Bharat

Advertisement

 

Advertisement

Published June 6th, 2024 at 16:40 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

2 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
7 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo