Advertisement

Updated June 8th, 2024 at 19:14 IST

'UP-महाराष्ट्र की तरह बिहार में इंडी नहीं लड़ा, अहंकार से...', पप्पू ने तेजस्वी पर किया सीधा वार

पूर्णिया सीट जीतने के बाद निर्दलीय प्रत्याशी पप्पू यादव ने इंडी अलायंस के उस साथी पर हमला बोला है जिसने बिहार में वो नहीं किया जो अपेक्षित था!

Reported by: Kiran Rai
pappu yadav and tejashwi yadav
पप्पू यादव | Image:pti/ani
Advertisement

Pappu Targets Tejashwi:  पप्पू यादव आगे क्या करेंगे, क्या वो इंडी अलायंस के साथ बने रहेंगे या फिर एनडीए के साथ चलेंगे? तमाम सवालातों का पटाक्षेप उन्होंने खुद ही किया। पटना में पत्रकारों से रूबरू हुए तो इंडी की कमजोरी और प्रधानमंत्री से अपेक्षा को लेकर बात रखी।  पप्पू यादव ने बिना नाम लिए लालू परिवार पर निशाना साधा।

पूर्णिया से नवनिर्वाचित सांसद ने आइडियोलॉजी की तो बात की ही साथ ही कहा कि वो पूर्णिया के लिए, विकास के लिए प्रधानमंत्री से भी मदद लेने को तैयार हैं उनसे बात करेंगे।

Advertisement

अहंकार से नहीं लड़ी जाती लड़ाई

पप्पू यादव ने बिना नाम लिए तेजस्वी यादव पर निशाना साधा। उन्हें अहंकारी तक बता डाला। पप्पू ने कहा- जिन्होंने आक्रामकता और अहंकार दिखाया, जो नफरत की राजनीति करते हैं वे हार गए...केंद्र में भी और बिहार में भी हार गए... अगर आप हमेशा आक्रामकता की बात करते हैं, तो युवा इसे नहीं चाहते। ये भगवान बुद्ध की भूमि है…यूवा जीना चाहते हैं, मुस्कुराना चाहते हैं... यह सरकार मोदी की नहीं, एनडीए की है।"

Advertisement

बिहार में खराब प्रदर्शन को किया परिभाषित

पप्पू यादव ने सवाल पूछा इंडी अलायंस के बिहार स्थित घटक दल से। बोले- 25-30 सीट होती इंडिया को...जबकि आप (राजद) मधेपुरा हार गए, सुपौल हार गए, खगड़िया हार रहे हैं...इधर अगर लेफ्ट नहीं होता पवन सिंह का चुनाव था जहां राजपूत डायवर्ट कर गए...यहां महाराष्ट्र यूपी की तरह नहीं लड़ा गया। आखिर ऐसा क्यों है कि यूपी में अखिलेश जी और महाराष्ट्र में राहुल जी के कारण इंडी को इतनी सीट मिली।

'नीतीश- चिराग पर भरोसा'

अपनी पार्टी जाप का कांग्रेस में विलय कराने के बाद भी पप्पू को पूर्णिया से निर्दलीय चुनाव लड़ना पड़ा। यहां से इंडी अलायंस धर्म को निभाते हुए राजद ने बीमा भारती को मैदान में उतार दिया। पप्पू यादव को लोगों का पूरा सपोर्ट मिला और प्रचंड बहुमत हासिल किया। अब जीत के बाद उन्होंने नीतीश चिराग को लेकर भी बड़ी बात कही। बोले- मैं चाहता हूं नीतीश कुमार और चिराग पासवान के भरोसे सरकार है तो आरक्षण लागू कराएं, जातीय जनगणना कराएं, विशेष राज्य का दर्जा लें, विशेष पैकेज लें। बिहार के बाढ़ की स्थिति के लिए बांध बनवाएं। अधिक से अधिक हवाई अड्डा हो। मैं चाहता हूं कि विकास हो। मेरी विचारधारा राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की है। पुर्णिया के विकास के लिए पीएम मोदी से मैं जरूर मदद लूंगा..."

तेजस्वी की नहीं गली दाल पूर्णिया में पप्पू यादव का कमाल

देशभर से आए चुनाव नतीजों में एनडीए को सरकार बनाने के लिए जनादेश मिला। बिहार में एनडीए का स्कोर कार्ड अच्छा रहा। गठबंधन ने 40 में 30 सीटें जीतीं। महागठबंधन ने 9 और एक सीट निर्दलीय उम्मीदवार पप्पू यादव के हिस्से में गया। पप्पू यादव को हराने के लिए तेजस्वी समेत राजद के कुनबे ने पूरी ताकत लगा दी थी। तेजस्वी ने यहां कैंप किया और रोड शो समेत जनसभाएं कर वोट अपील की लेकिन बीमा भारती को करारी हार का सामना करना पड़ा।

ये भी पढ़ें- रायबरेली सीट पर BJP उम्मीदवार दिनेश प्रताप ने राहुल से मानी हार,कहा-कर्तव्य पथ जो मिला...
 

Advertisement

Published June 8th, 2024 at 18:56 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
1 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
6 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo