Advertisement

Updated June 7th, 2024 at 15:57 IST

नीतीश कुमार ने PM मोदी को दिया अपना बेशर्त समर्थन, लेकिन प्रधानमंत्री से जता दी ये बड़ी इच्छा

New Government Formation: संसदीय बैठक के दौरान बिहार के CM नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बेशर्त समर्थन दिया।

Reported by: Kunal Verma
Narendra Modi to be India's PM For 3rd Time in a Row As Nitish, Naidu Back NDA 3.0 | LIVE
PM Modi, Nitish Kumar, Naidu and Pawan Kalyan | Image:PTI
Advertisement

New Government Formation: संसदीय बैठक के दौरान बिहार के CM नीतीश कुमार ने नरेंद्र मोदी को बेशर्त समर्थन दिया। हालांकि, इस दौरान उन्होंने PM मोदी के सामने एक बड़ी इच्छा भी जाहिर कर दी।

नीतीश कुमार ने जाहिर की ये बड़ी इच्छा

नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में कहा- 'मेरा आग्रह यही है कि जल्दी से जल्दी आपका काम शुरू हो जाए। आप इतवार को करने वाले हैं। हम तो चाहते थे कि आजे (आज) हो जाता तो अच्छा था। आपकी जब इच्छा है, जब भी हो, जितना काम हो अच्छा है। पूरे देश में इसका बहुत फायदा होगा। मैं आपका अभिनंदन करता हूं। हम सभी लोग बीजेपी के साथ रहेंगे।'

उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी JDU, भाजपा संसदीय दल के नेता नरेंद्र मोदी को भारत के प्रधानमंत्री पद के लिए समर्थन देती है। यह बहुत खुशी की बात है कि 10 साल से ये पीएम हैं और फिर पीएम होने जा रहे हैं। इन्होंने पूरे देश की सेवा की है और उम्मीद है कि अगली बार जो कुछ भी बचा है वो सब पूरा कर देंगे। हम लोग पूरे तौर पर सब दिन इनके साथ रहेंगे। हमें लगता है कि अगली बार जब आएंगे तो कुछ सीट जो ये(विपक्ष) जीत गए हैं अगली बार सब हारेंगे।

Advertisement

मोदी ने की ड्रीम की बात

जब मोदी ने अगले 10 साल के अपने ड्रीम की बात की तो पूरा सेंट्रल हॉल तालियों से गूंज उठा। काफी देर तक लगातार तालियां बजती रहीं। एनडीए के नेता मेजों को थपथपाते रहे। मोदी के अगले 10 साल के ड्रीम के मायने अगर समझें जाएं तो उनका इशारा 2029 का चुनावी एजेंडा हो सकता है। उसके अलावा वो इस बात के भी संकेत दे रहे थे कि अगले 10 साल में एनडीए की ही सरकार बनेगी। सेंट्रल हॉल में मोदी ने आगे गठबंधन के नाम भी संदेश दिया।

Advertisement

उन्होंने कहा कि देश के राजनीतिक इतिहास और राजनीति के गठबंधन के इतिहास में प्री-पोल अलायंस इतना सफल कभी भी नहीं हुआ है, जितना की एनडीए हुआ है। उन्होंने कहा कि NDA के सत्ता प्राप्त करने का या सरकार चलाने का कुछ दलों का जमावड़ा नहीं है। ये राष्ट्र प्रथम की मूल भावना से नेशन फर्स्ट के प्रति कमिटेड, वैसा ये समूह है। आज एनडीए भारत की राजनीतिक व्यवस्था में एक संगठित गठबंधन के रूप में चमक रहा है।

ये भी पढ़ेंः Modi 3.O: सेंट्रल हॉल तालियों से गूंज उठा, जब मोदी बोले- 'अगले 10 साल में...', गठबंधन को बड़ा संदेश

Advertisement

Published June 7th, 2024 at 15:50 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

2 दिन पहलेे
2 दिन पहलेे
4 दिन पहलेे
7 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo