Advertisement

Updated June 5th, 2024 at 19:00 IST

‘नीतीश हमारे साथ, तेजस्वी के सपने नहीं बनेंगे हकीकत…’ प्रेम कुमार का केंद्र की राजनीति पर बड़ा बयान

लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजे के बाद केंद्र की राजनीति में हलचल बढ़ी हुई है, ऐसे में BJP नेता प्रेम कुमार ने दावा किया है कि नीतीश और चंद्रबाबू NDA में ही रहेंगे।

Reported by: Nidhi Mudgill
Nitish Kumar , Tejashwi Yadav, Prem Kumar
नीतीश कुमार, तेजस्वी यादव, प्रेम कुमार | Image:ANI
Advertisement

Nitish Kumar News: लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजे के बाद देश की राजनीति में हलचल बढ़ी हुई है। क्योंकि इस बार किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत न मिलने से गठबंधन की सरकार बनेगी, ऐसे में एनडीए गठबंधन के पास पूर्ण बहुमत है। लेकिन  गठबंधन में जेडीयू नेता नीतीश कुमार और टीडीपी नेता चंद्रबाबू नायडू की भूमिका अब अहम हो गई है। नीतीश कुमार दिल्ली पहुंचे हुए हैं। इस बीच बिहार बीजेपी नेता प्रेम कुमार का एक बयान सामने आया है, जिसमें उन्होंने दावा किया है कि नीतीश कुमार उनके साथ ही रहेंगे और तेजस्वी यादव के सपने हकीकत नहीं बनेंगे।

बिहार में बीजेपी नेता प्रेम कुमार का कहना है कि, ‘इस बात की उच्च स्तर पर समीक्षा की जाएगी कि बिहार में पार्टी को उम्मीद से 9 सीटें कैसे कम मिलीं। नीतीश कुमार हमारे साथ बने रहेंगे। तेजस्वी यादव के सपने हकीकत नहीं बनेंगे’

Advertisement

सहयोगी दलों का इस बार अहम रोल

वहीं लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजों की बात कि जाए तो, देश की जनता ने एक बार फिर मोदी सरकार पर भरोसा जताया है। चुनाव आयोग के अनुसार NDA को 543 में से कुल 292 सीटें मिली है, जबकि INDI गठबंधन के खाते में 234 सीटें आई हैं। राजनीति में कहते हैं कि बिहार और यूपी चाहे तो दिल्ली की सरकार हिला सकती है। लोकसभा चुनाव 2024 में NDA ने बहुमत तो हासिल कर ली है, लेकिन इस जीत में उनके सहयोगी दलों का भी अहम रोल रहा है।

बीजेपी 272 के जादुई आंकड़े से दूर...

लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजों पर नजर डालें तो पिछले बार की तुलना में बीजेपी की सीटों में भारी गिरावट आई है। 2019 लोकसभा चुनाव में बीजेपी के खाते में 303 सीटें आई हैं, जो बहुमत से ज्यादा थी, लेकिन इस चुनाव में बीजेपी 272 के जादुई आंकड़े से दूर है और उन्हें 240 सीटें मिली है। ऐसे में अभी से ये सवाल उठने लगे हैं कि क्या एनडीए के सहयोगी दल बाजी पलट तो नहीं देंगे। ये सवाल इसलिए भी उठ रहा है क्योंकि पीएम मोदी के खिलाफ 26 अलग-अलग दल इस बार एक साथ आकर चुनाव लड़ रहे थे, ऐसे में वो बीजेपी के सहयोगी दलों पर चारा डालने की पूरी कोशिश जरूर करेंगे।

यह भी पढ़ें : CM नीतीश कुमार के दिल्ली पहुंचते ही बढ़ी सियासी सरगर्मी

Advertisement

पहले भी पलटी मार चुके हैं नीतीश कुमार  

INDI के खाते में 234 सीटें हैं इसलिए वो अभी भी जोर लगा सकती है। उन्हें पता है कि बीजेपी ने बहुमत का आंकड़ा क्रॉस नहीं किया है ऐसे में वो बार-बार पलटी मारने के लिए मशहूर नीतीश कुमार को चारा डालने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। चुनावी प्रचार के दौरान नीतीश ने भले ही कहा था कि वो पीएम मोदी के पास आ गए हैं और अब कहीं नहीं जाएंगे, लेकिन ये भी सच है कि इससे पहले भी वो इस तरह के कई वादे करने के बाद पलटी मार चुके हैं। ये भी याद रखें कि INDI गठबंधन की नींव बनाने में नीतीश कुमार का अहम योगदान रहा था, हालांकि वो बाद में खुद महागठबंधन से अलग हो गए।

Advertisement

यह भी पढ़ें : फडणवीस ने की इस्तीफे की पेशकश, मंत्री गिरीश महाजन बोले-‘साथ काम करेंगे, समस्या का सवाल ही नहीं...'

Advertisement

Published June 5th, 2024 at 18:37 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

1 दिन पहलेे
1 दिन पहलेे
3 दिन पहलेे
6 दिन पहलेे
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo