Advertisement

Updated April 4th, 2024 at 14:23 IST

SC के फैसले के बाद नवनीत राणा का चुनाव लड़ने का रास्ता साफ, बोलीं-मेरे जन्म पर सवाल उठाने वालों को..

अमरावती से बीजेपी कैंडिडेट नवनीत राणा ने SC से मिली राहत पर खुशी जताते हुए विरोधियों पर तंज कसा और कहा मेरे जन्म पर सवाल उठाने वालों को उत्तर मिल गया है।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Kiran Rai
Amravati MP Navneet Kaur Rana
अमरावती MP नवनीत राणा | Image:PTI
Advertisement

Navneet Rana Big Relief:  अमरावती सीट के लिए अपना नामांकन दाखिल करने से पहले अपने समर्थकों के बीच नवनीत राणा ने सुप्रीम कोर्ट (SC) का आभार जताया और उन लोगों को आईना भी जिन्होंने जन्म को लेकर सवाल खड़े किए थे। आज ही जाति प्रमाण पत्र को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें राहत दी।

शीर्ष अदालत ने बंबई उच्च न्यायालय के फैसले को खारिज कर दिया। न्यायमूर्ति जे के माहेश्वरी और न्यायमूर्ति संजय करोल की पीठ ने नवनीत राणा की याचिका को विचारार्थ स्वीकार करते हुए कहा कि उच्च न्यायालय को नवनीत राणा के जाति प्रमाणपत्र के मुद्दे पर जांच समिति की रिपोर्ट में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए था।

Advertisement

राहत मिलने पर समर्थकों के बीच राणा ने कहा कि उनके कई दिनों के संघर्ष का फल उन्हें मिल गया है। जिन्होंने मेरे जन्म के ऊपर सवाल उठाए...आज दूध का दूध पानी का पानी हो गया...सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें उत्तर दे दिया है।


उच्च न्यायालय ने आठ जून 2021 को कहा था कि राणा ने धोखाधड़ी कर फर्जी दस्तावेजों के जरिए ‘मोची’ जाति का प्रमाणपत्र हासिल किया था। उच्च न्यायालय ने सांसद पर दो लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था और कहा था कि रिकॉर्ड से पता चलता है कि वह ‘सिख-चमार’ जाति से हैं।

राणा ने 2019 में निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में अमरावती संसदीय सीट जीती थी। वह हाल ही में भाजपा में शामिल हुईं और उसी निर्वाचन क्षेत्र से टिकट मिलने के बाद चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं। उन्हें 2019 में राकांपा का समर्थन प्राप्त था।

Advertisement

(ये पीटीआई की खबर है मात्र हेडिंग में बदलाव किया गया है)

ये भी पढ़ें-'मेरे त्यागपत्र के बाद किया निष्कासन इतनी...', कांग्रेस पर संजय निरुपम का एक और हमला

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published April 4th, 2024 at 14:23 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo