Advertisement

Updated April 1st, 2024 at 16:48 IST

हर गांव में खुलेगा बार, गरीब भी लें इंपोर्टेड शराब का आनंद…उम्मीदवार का वादा सोशल पर होने लगा ट्रेंड

Lok Sabha Election 2024: एक निर्दलीय उम्मीदवार वनिता राउत ने बड़ा अजीबोगरीब वादा कर दिया है। उन्होंने गांव में बीयर बार खोलने को कहा है।

Reported by: Sakshi Bansal
Vanita Raut
वनिता राउत | Image:X
Advertisement

Lok Sabha Election 2024: भारत में इस समय चुनावी मौसम चल रहा है और इस मौसम में उम्मीदवार जनता को लुभाने के लिए तरह-तरह के वादे कर रहे हैं। इसी कड़ी में, महाराष्ट्र में चंद्रपुर के चिमूर गांव से एक निर्दलीय उम्मीदवार वनिता राउत ने बड़ा अजीबोगरीब वादा कर दिया है। उन्होंने गांव में बीयर बार खोलने को कहा है।

लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर राजनीतिक पार्टियां कमर कस रही हैं। वह लोगों का भरोसा जीतने का एक मौका नहीं गंवा रहीं। निर्दलीय उम्मीदवार भी जमकर प्रचार प्रसार कर रहे हैं। हालांकि, महाराष्ट्र की एक उम्मीदवार ने जो जनता से वादा किया है, उसकी चारों ओर चर्चा हो रही है।

Advertisement

चुनाव जीतने पर खुलवाएंगी बीयर बार!

चिमूर गांव से निर्दलीय उम्मीदवार वनिता राउत ने लोगों से वादा किया है कि अगर वह लोकसभा चुनाव जीत जाती हैं तो वह सांसद निधि से लोगों को सब्सिडी पर बीयर और व्हिस्की दिलवाएंगी। अगर ये कम था, तो उन्होंने ये तक वादा कर दिया है कि वह हर गांव में बीयर बार खुलवाएंगी। 

Advertisement

उन्होंने मीडिया से बात करते हुए साफ शब्दों में ऐलान किया है कि ‘जहां जहां गांव होगा, वहां वहां वह बीयर बार खुलवाएंगी और यही उनका चुनावी मुद्दा है’। खबरों की माने तो, निर्दलीय उम्मीदवार वनिता राउत ने आगे अपनी योजना के बारे में और बताते हुए कहा कि ‘राशनिंग सिस्टम से शराब को आयात किया जाएगा और पीने वाले के साथ साथ बेचने वाले के लिए भी लाइसेंस होना जरूरी है’। 

‘गरीबों को अच्छी क्वालिटी की शराब देना चाहती हूं’

वनिता राउत का कहना है कि ‘गरीब लोग दिनभर मेहनत करते हैं और उन्हें शराब पीकर ही चैन आता है। वे लोग महंगी शराब नहीं खरीद सकते तो देसी शराब पीकर कहीं बेहोश पड़े रहते हैं’। यही कारण है कि वनिता महंगी बीयर और व्हिस्की का आयात कराकर सस्ते दामों पर मुहैया कराएंगी ताकि ‘गरीब लोग भी अच्छी क्वालिटी की शराब का आनंद ले सकें’।

जब उनसे आगे पूछा गया कि शरीब के सेवन से कई परिवार भी उजड़ जाते हैं तो वनिता कहती हैं कि ‘इसीलिए वह लाइसेंसिंग सिस्टम ला रही हैं। 18 साल से ज्यादा उम्र वालों को ही लाइसेंस मिलना चाहिए। अगर शराब को कानूनी तरीके से बेचा जाएगा तो कई समस्या से निजात मिल सकता है’। 

Advertisement

ये भी पढ़ेंः अपने लोकसभा क्षेत्र मंडी पहुंचीं कंगना रनौत, BJP ऑफिस में पार्टी कार्यकर्ताओं से की मुलाकात

Advertisement

Published April 1st, 2024 at 12:52 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo